बीजेपी नेता की हत्या समेत 38 कांडों में मोस्ट वांटेड प्रभु सहाय पुलिस मुठभेड़ में ढेर

बीजेपी नेता की हत्या समेत 38 कांडों में मोस्ट वांटेड प्रभु सहाय पुलिस मुठभेड़ में ढेर

NEWS4NATION DESK : झारखंड पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने पीएलएफआई के मोस्ट वांटेड और 2 लाख के इनामी कुख्यात उग्रवादी प्रभु सहाय को मार गिराया है। प्रभु सहाय पर बीजेपी नेता भैया राम मुंडा समेत 38 आपराधिक मामले दर्ज थे। सरकार ने उसपर 2 लाख का इनाम घोषित कर रखा था। 

पुलिस प्रवक्ता आशीष बत्रा ने बताया कि खुंटी जिले में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में जो पांच उग्रवादी मारे गय़े है, उनमें भाजपा नेता भैया राम मुंडा की हत्या समेत 38 आपराधिक मामलों का आरोपी प्रभु सहाय भी शामिल है। 

उन्होंने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि खुंटी जिले के तिरला जंगल में नक्सली जमा हुए है। जिसके बाद जंगल में सर्च अभियान चलाया गया। पुलिस को देखते ही उग्रवादियों की ओर से फायरिंग शुरु कर दी गई। जिसके बाद सुरक्षा बलों द्वारा भी जबावी कार्रवाई की गई। दोनों ओर से सैकड़ो राउंड फायरिंग हुई। इसके बाद उग्रवादी मौके से फरार हो गये। 

आशीष बत्रा ने बताया कि मुठभेड़ के बाद जंगल में सर्च अभियान चलाया गया तो पुलिस को जंगल में पांच उग्रवादियों के शव पड़े मिले। वहीं मौके से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए। बरामद पांच शवों में एक की पहचान कुख्यात प्रभु सहाय के रुप में हुई है। उन्होंने बताया कि प्रभु बोदरा दस्ता को लीड कर रहा था। उसपर भाजपा नेता भैया राम मुंडा की हत्या समेत 38 आपराधिक मामले दर्ज थे।

Find Us on Facebook

Trending News