छपरा में निजी अस्पताल में जच्चा बच्चा की हुई मौत, परिजनों ने किया जमकर हंगामा

छपरा में निजी अस्पताल में जच्चा बच्चा की हुई मौत, परिजनों ने किया जमकर हंगामा

CHAPRA : छपरा में अवैध रूप से चल रहे निजी अस्पतालों में लोगों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। फर्जी डॉक्टरों की लापरवाही से लोगों की जान जा रही है। जबकि स्वास्थ्य विभाग लापरवाह बना हुआ है। इस बार सदर अस्पताल में इलाज के लिए आई परसों पीड़िता को दलालों ने रामलीला मुखिया के पास एक निजी अस्पताल में पहुंचा दिया। 


जहां इलाज के दौरान जच्चा बच्चा दोनों की मौत हो गई। मृतक नेहा देवी आमी गांव के रहने वाले सतीश गुप्ता की पत्नी बताई जा रही है। बच्चे की मौत के बाद अस्पताल के कर्मचारी शव को अस्पताल में बंद कर फरार हो गए। 

जिसे बाद में पुलिस ने अस्पताल से निकाला और पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा है। खास बात यह है कि अस्पताल के बाहर जिस डॉक्टर का नाम लिखा है। वह सदर अस्पताल में ही कार्यरत डॉक्टर है। लेकिन मौके पर डॉक्टर साहब मौजूद नजर नहीं आई।

छपरा से शशि सिंह की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News