मोतिहारी के जिला अवर निबंधक को हटाने की मांग,चुनाव कार्य में लापरवाही सामने आने के बाद बसपा ने CEO को लिखा पत्र

मोतिहारी के जिला अवर निबंधक को हटाने की मांग,चुनाव कार्य में लापरवाही सामने आने के बाद बसपा ने CEO को लिखा पत्र

मोतिहारी बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार प्रशासनिक तैयारी चल रही है ।इसी कड़ी में कई जगहों से अधिकारियों की लापरवाही भी उजागर हो रही है।पूर्वी चंपारण में जिला अवर निबंधक की लापरवाही से चुनाव कार्य में थोड़ी परेशानी हुई है। इसके बाद जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी ने जिला अवर निबंधक पूर्वी चंपारण से स्पष्टीकरण मांगा है। 

इसके बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है। बसपा ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखकर जिला अवर निबंधक को हटाने की मांग की है।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को भेजे पत्र में मोतिहारी के बसपा जिलाध्यक्ष ने कहा है कि जिला अवर निबंधक चुनाव में असंवेदनशीलता का परिचय दिया है और आदेश उल्लंघन कर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम  1951 के तहत गंभीर अपराध किया है. ऐसे में उन पर पद पर बने रहने देना न्याय संगत नहीं है.लिहाजा चुनाव आयोग ऐसे लापरवाह अधिकारियों को पद से हटाए ताकि स्वच्छ और निष्पक्ष चुनाव  हो सके.

जानिए मामला...

डीएम ने जिला अवर निबंधक से पूछा है कि विधानसभा आम निर्वाचन के सफल संचालन हेतु विभिन्न कोषांग का गठन किया गया है।मतपत्र- पोस्टल बैलट कोषांग में जिला अवर निबंधक कार्यालय के सभी डाटा ऑपरेटर की प्रतिनियुक्ति की गई थी, परंतु आपके तरफ से डाटा ऑपरेटर योगदान को लेकर निर्देशित नहीं किया गया। जिस कारण कोषांग से संबंधित कार्य बाधित हो रहा। आपका यह कृत्य निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्यों के प्रति असंवेदनशीलता,घोर लापरवाही एवं आदेश की अवहेलना का परिचायक है।

डीएम ने मोतिहारी जिला अवर निबंधक को इस कार्य में हुए विलंब के लिए स्पष्टीकरण पूछा है ।डीएम ने कहा है कि क्यों न आपके विरुद्ध लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की सुसंगत धाराओं के तहत विधि सम्मत कार्रवाई की जाए ।इसके साथ ही डीएम ने स्पष्टीकरण पर निर्णय लिए जाने तक सभी डाटा ऑपरेटर का अगले आदेश तक मासिक मानदेय तत्काल प्रभाव से स्थगित किया है ।

Find Us on Facebook

Trending News