मोतिहारी के रण में राधामोहन सिंह को घेरने की रणनीति,कांग्रेस नेता अखिलेश प्रसाद सिंह और पूर्व विधायक अवनीश सिंह हुए साथ-साथ

मोतिहारी के रण में राधामोहन सिंह को घेरने की रणनीति,कांग्रेस नेता अखिलेश प्रसाद सिंह और पूर्व विधायक अवनीश सिंह हुए साथ-साथ

न्यूज़ 4 नेशन डेस्क : मोतिहारी के चुनावी रण में केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह लगातार घिरते जा रहे हैं।कांग्रेस के राज्य सभा सांसद अखिलेश सिंह ने कभी बीजेपी के कद्दावर नेता और  भाजपा के 5 बार के विधायक अवनीश कुमार सिंह को अपने पक्ष में कर लिया है।अपने बेटे को जीत दिलाने के लिए कांग्रेस नेता अखिलेश प्रसाद सिंह ने पूर्व विधायक अवनीश कुमार सिंह को भी अपने विश्वास में ले लिया है. कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह आज अवनीश सिंह के मोतिहारी आवास पर पहुंचे और उनसे मदद की अपील की ।इसके बाद अवनीश प्रसाद सिंह ने अपने भतीजे आकाश प्रसाद सिंह को जीत का आर्शीवाद दिया।

आपको बता दें कि अवनीश  कुमार सिंह 2014 के लोकसभा चुनाव में मोतिहारी से जेडीयू के उम्मीदवार थे।लेकिन 2014 के मोदी लहर में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन इस बार वे चुनाव नहीं लड़ रहे।लिहाजा अखिलेश प्रसाद सिंह ने उस इलाके के प्रभाव शाली नेता अवनीश कुमार सिंह से सहयोग मांगा है।

आपको बता दे कि पहली दफा डॉक्टर अखिलेश प्रसाद सिंह जब आरजेडी के टिकट पर मोतिहारी से चुनाव लड़ने गए थे उस समय अवनीश सिंह बीजेपी के विधायक थे। लिहाजा बीजेपी प्रत्याशी राधा मोहन सिंह ने अवनीश सिंह को अखिलेश सिंह के खिलाफ मोर्चा संभालने का जिम्मा दे दिया था।मकसद था भूमिहार वोटो का बिखराव को रोकना।लेकिन चुनाव खत्म होने के कुछ ही समय बाद राधामोहन सिंह ने अवनीश कुमार सिंह से दूरी बना ली।अंत मे 2014 के लोकसभा चुनाव में अवनीश सिंह में चिरैया विधान सभा सीट से इस्तीफा देकर जदयू के टिकट पर मोतिहारी लोकसभा से चुनाव लड़ गए।हालांकि मोदी लहर में राधामोहन सिंह चुनाव जीत गए।

एकबार फिर से राधामोहन सिंह बीजेपी के टिकट पर मोतिहारी सीट से चुनाव लड़ रहे।खिलाफ में rlsp के टिकट पर अखिलेश सिंह के बेटे आकाश सिंह चुनावी मैदान में हैं

Find Us on Facebook

Trending News