मोतिहारी पुलिस ने बनाया कीर्तिमान, बीते वर्ष 16 हज़ार से अधिक अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

मोतिहारी पुलिस ने बनाया कीर्तिमान, बीते वर्ष 16 हज़ार से अधिक अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

MOTIHARI : मोतिहारी पुलिस अधीक्षक डॉ. कुमार आशीष के सशक्त नेतृत्व में पुलिस ने बीते वर्ष 2022 में कई अविस्मरणीय उपलब्धियाँ हासिल की। मोतिहारी पुलिस द्वारा बीते वर्ष 16,386 गिरफ्तारियों के साथ पूरे राज्य में एक कीर्तिमान बनाया गया। इन गिरफ्तारियों में 424 हत्या, 23 डकैती, 128 लूट, 277 महिला प्रताड़ना, 358 अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार एवं 5189 मद्यनिषेध अधिनियम के उल्लंघन के कांड में की गई है।

जिला पुलिस द्वारा इस वर्ष 152 आग्नेयास्त्र, 65,000 लीटर से ज्यादा विदेशी शराब, 75,000 लीटर से ज्यादा देसी शराब, 1,350 किलोग्राम गांजा, 67 किलोग्राम चरस, 1.5 किलोग्राम स्मैक, 7.6 किलोग्राम हेरोइन, 1,385 वाहन, इत्यादि की जब्ती/बरामदगी की गई। जिला पुलिस द्वारा मद्यनिषेध अधिनियम के क्रियान्वयन में निष्ठा और प्रतिबद्धता का जीता-जागता प्रमाण यह है कि पूरे बिहार में पुलिस मुख्यालय द्वारा की गई रैंकिंग में मोतिहारी पुलिस को नवंबर माह में सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त हुआ। जिला पुलिस द्वारा मद्यनिषेध की छापामारी में बड़े पैमाने पर दुर्गम और अब तक अभेद्य इलाकों में ड्रोन तथा बोट पेट्रोलिंग का प्रयोग किया गया। कानून के प्रवर्तन के साथ-साथ पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में जिला पुलिस द्वारा सभी शराब विनिर्माण के कुख्यात इलाकों में जन-जागरूकता का जोर-शोर से प्रयोग करते हुए आम जनता से कम्युनिटी पुलिसिंग के माध्यम से कानून के अनुपालन की अपील भी की गई।

जिला पुलिस द्वारा मद्यनिषेध अधिनियम के क्रियान्वयन में अब तक 9,00,000 लीटर शराब बरामद की गई है। जिसमें से कुल 8,90,000 लीटर शराब का विनष्टीकरण किया जा चुका है। जिला पुलिस के वैज्ञानिक एवं तकनीकी अनुसंधान तथा सफल एवं सशक्त अभियोजन की मदद से मोतिहारी पुलिस मद्यनिषेध अधिनियम के तहत न्यायालय द्वारा अपराधियों की दोषसिद्धि में पूरे बिहार में सर्वश्रेष्ठ स्थान पर है।

जिला पुलिस द्वारा अपराध नियंत्रण और निवारण के क्रम में विगत वर्ष कूल 15,001 कांड दर्ज किए गए। जिसमें 14,912 कांडों का निष्पादन किया गया है। जिला पुलिस की अनूठी उपलब्धियों में पुलिस केंद्र में स्थापित किया जाने वाला पहला शिशु गृह है। कामकाजी महिलाओं के आर्थिक स्वतंत्रता तथा उनके पारिवारिक जिम्मेदारियों के निर्वहन में यह महती भूमिका रखता है। जिला पुलिस द्वारा शुरू किए गए "आवाज दो" पहल से संकटग्रस्त एवं अवसादग्रसित महिलाओं को पुलिस द्वारा त्वरित मदद पहुंचाई जा रही है। इस क्रम में, महिला पुलिसकर्मियों द्वारा उनकी काउंसलिंग के साथ-साथ विधिक मदद भी दी जा रही है। पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में आयोजित "कॉफी विद एसपी" कार्यक्रम के माध्यम से 2,000 से ज्यादा युवाओं को शराबबंदी एवं नशामुक्ति की शपथ दिलाई गई। उपस्थित सभी युवाओं को पुलिस अधीक्षक एवं अन्य वरीय पदाधिकारियों द्वारा उनके कैरियर के विकल्पों तथा एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में उनकी भूमिका के बारे में रेखांकित किया गया। यह कार्यक्रम पूरे राज्य में एक विशिष्ट प्रयोग रहा है तथा समाज के हर वर्ग ने इस कार्यक्रम की सराहना की है।

पुलिस कप्तान डॉ• कुमार आशीष के सुदृढ़ एवं मार्गदर्शी नेतृत्व में जिला पुलिस ने बापू की धरती पर भयमुक्त एवं अपराध मुक्त समाज की अवधारणा को आधारभूत पुलिसिंग एवं संवेदनशील पुलिसिंग के माध्यम से साकार करने की निष्ठावान कोशिश की है। आगे भी, मोतिहारी पुलिस सभी सम्मानित नागरिकों से पुलिस के इस भगीरथ प्रयास में सूचना और सहयोग की अपील करती है।

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News