दारू पीने वालों को पकड़कर 'तुर्रम खां' बनती है मोतिहारी पुलिस, शराब कारोबारी 'थानेदार' को अब तक नहीं कर सकी गिरफ्तार

दारू पीने वालों को पकड़कर 'तुर्रम खां' बनती है मोतिहारी पुलिस, शराब कारोबारी 'थानेदार' को अब तक नहीं कर सकी गिरफ्तार

मोतिहारी:  पूर्वी चंपारण जिला पुलिस ने वर्ष 2020 में शराब कारोबार पर लगाम लगाने के लिए लगातार कार्रवाई में जुटी रही । पुलिस ने जिलाभर में 3499 शराब कारोबारियों के घर पर छापेमारी की और 3179 लोगो के विरुद्ध केस दर्ज किया गया । वहीं शराब पीने के आरोप में 734 लोगो को गिरफ्तार किया.जबकि 2513 शराब कारोबारियों को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की।लेकिन सबसे खास बात यह कि एक शराब कारोबारी थानेदार को गिरफ्तार करने में पुलिस के पसीने छूट गए। शराब पीने वालों को पकड़कर तुर्रम खां बनने वाली मोतिहारी पुलिस अपने थानेदार को अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी।

छह माह बाद भी अपने थानेदार को गिरफ्तार नहीं कर सकी मोतिहारी पुलिस 

छह माह बीतने के बाद भी थाना परिसर में बिना जप्ती सूची के एक हज़ार लीटर स्प्रिट सहित देशी शराब बरामदगी के आरोपी थानेदार को पुलिस पकड़ने में विफल रही। सूत्रों की मानें तो आरोपी थानेदार केस दर्ज होने के बाद भी पुलिस महकमा के कार्यालय में भी धड़ल्ले से आते जाते देखा गया. लेकिन छह माह बीतने के बाद भी पुलिस आरोपी थानेदार को गिरफ्तार करने में विफल रही।

पुलिस द्वारा शराब पर एक वर्ष में हुई कार्रवाई का आंकड़ा आम लोगों मे चर्चा बना हुआ है। पुलिस आंकड़े के अनुसार एक वर्ष में जिला में पुलिस दर्जनों अवैध शराब भट्ठियों को ध्वस्त कर कारोबारियों के मंसूबे पर पानी फेरने में सफलता हासिल की है. वहीं, 3499 शराब कारोबारियों के घर छापेमारी, 3199 शराब अधिनियम के तहत केस दर्ज,734 लोगो को शराब पीने के आरोप में गिरफ्तार ,2513 शराब कारोबारियों को गिरफ्तार करने का सफलता पुलिस को मिली है। लेकिन आम चर्चा है कि जब 22 जून को एसपी के निर्देश पर तुरकौलिया थाना में अवैध शराब को लेकर एएसपी व मुफसिल इंस्पेक्टर के द्वारा छापेमारी की गई तो बड़ा खुलासा हुआ था। बिना जब्ति सूची के लगभग एक हज़ार लीटर स्प्रिट व देशी शराब जब्त किया गया। उसके बाद प्रभारी थानेदार के आवेदन पर तत्कालीन थानाध्यक्ष नवनीत कुमार,निजी चालक व अज्ञात शराब कारोबारी पर प्राथमिकी दर्ज किया गया। प्राथमिकी दर्ज के छह माह बाद भी आरोपी थानेदार की गिरफ्तारी नही होना चर्चा का विषय बना हुआ है।

तुरकौलिया थाना के तत्कालीन थानेदार की अग्रिम जमानत याचिका भी विशेष एडिशनल जिला जज के यहा से पांच माह पूर्व ही खारिज हो चुका है। शराब बरामदगी के बाद त्वरित करवाई करते हुए एसपी नवीन चन्द्र झा ने तत्कालीन थानेदार नवनीत कुमार को निलंबित कर दिया था साथ ही थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।वहीं एसपी ने शराब कारोबार में संलिप्तता को लेकर तीन चौकीदार को बर्खास्त किया है।

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News