नवादा में मुखिया पति को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जमकर पिटाई करने के बाद भेजा जेल

नवादा में  मुखिया पति को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जमकर पिटाई करने के बाद भेजा जेल

Nawada : जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां एक मुखिया पति को पुलिस ने गिरफ्तार कर पहले तो जमकर पिटाई की है। फिर उसे जेल भेज दिया है। पुलिस की यह कार्रवाई पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि पुलिस ने पिटाई की बात से इनकार किया है। 

घटना को लेकर बताया गया है कि बीते सोमवार की देर रात नारदीगंज थाना पुलिस द्वारा पचेया गांव में मुखिया मुखिया दिव्या प्रधान के घर छापेमारी की। इस दौरान पुलिस ने मुखिया पति अजित कुमार उर्फ गुड्डू सिंह को गिरफ्तार किया।

मुखिया दिव्या प्रधान और उनके पति का आरोप है कि गिरफ्तार करने के बाद घर पर से ही पुलिस द्वारा उनकी पिटाई शुरु कर दी गई। गिरफ्तार अजित कुमार के अनुसार जबतक वे बेहोश नहीं हो गए, तबतक पुलिस उन्हें पिटती रही। उन्होंने पुलिस द्वारा पिटाई के निशान भी दिखाए।  

अजीत कुमार के अनुसार घटना की शुरुआत 3 अगस्त यानि रक्षा बंधन के दिन से ही शुरू हुई। उन्होंने बताया कि उस दिन मैजिक गाड़ी से मेरी मां नंदपुर व धनियावा पहाड़ी से पूजा कर लौट रही थी। लौटने के क्रम में वर्षा और कीचड़ के कारण गाड़ी सड़क से नीचे उतर गई थी। इसकी जानकारी मिलने पर हम वहाँ पर पहुँचे, और ट्रैक्टर से गाड़ी को खींच कर बाहर सड़क पर निकाल लिए थे। गाड़ी से कोई दुर्घटना नहीं हुई थी।

इधर इस घटना को लेकर प्रभारी थानाध्यक्ष राम कृपाल यादव और दफेदार चंद्रमौली सिंह घटनास्थल पर पहुँचे। ,दोनों शराब के नशे में थे और जबरन गाड़ी को थाने ले जाने की बात करने लगे। जब मैने कहा कि बेवजह गाड़ी को थाने क्यों ले जा रहे है तो प्रभारी थानाध्यक्ष राम कृपाल यादव ने धमकी दिया था कि हम तुमको बर्बाद कर देंगे।उस घटना के बाद सोमवार के रात में घर पर पहुँच कर गिरफ्तार किया,और घर से पीटना शुरू  कर दिया।

वहीं इस सम्बन्ध में एसआई राम कृपाल यादव ने बताया कि रक्षाबंधन के दिन अजित कुमार का गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। जिसकी जानकारी मिलने के बाद हम दुर्घटनाग्रस्त वाहन को लाने गए थे तो अजित ने मुझे अपना काम करने से रोकने के साथ ही मेरे साथ मारपीट की थी।

उन्होंने बताया कि उस मामले को लेकर थाना कांड संख्या 175 /2020 दर्ज किया गया था। मामले में अजित कुमार, संतोष कुमार,प्रमोद कुमार,राजीव कुमार समेत 15 अन्य लोगों को अभियुक्त बनाया गया था। उसी केस में सोमवार की रात को पुलिस ने अजित सिंह को गिरफ्तार कर आज मंगलवार की सुबह में जेल भेज दिया है। वहीं थानाध्यक्ष मोहन कुमार ने बताया कि अभियुक्त के साथ कोई मारपीट नहीं किया गया है। आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद है। 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News