मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत एम्बुलेंस पर अनुदान के लिए 4500 लोगों ने किया आवेदन, जानिए कितने का हुआ चयन

मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत एम्बुलेंस पर अनुदान के लिए 4500 लोगों ने किया आवेदन, जानिए कितने का हुआ चयन

PATNA : मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत एम्बुलेंस खरीद पर अनुदान के लिए सभी जिलों में कुल 4500 लोगों ने आवेदन दिया है। प्राप्त आवेदनों में से योग्य 1020 आवेदकों का चयन कर अंतिम चयन सूची का प्रकाशन कर दिया गया है। 24 मई से चयनित आवेदक एम्बुलेंस खरीद के बाद अनुदान की राशि प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकेंगे। 

आवेदन प्राप्ति के सात दिनों के अंदर मिलेगा अनुदान

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि एम्बुलेंस खरीद हेतु अनुदान के लिए आवेदन प्राप्ति के 7 दिनों में अनुदान की राशि सीएफएमएस के माध्यम से लाभुक के खाते में उपलब्ध करा दिया जाएगा। इस योजना पर (एम्बुलेंस योजना) राज्य सरकार द्वारा अनुदान के रूप में लगभग 21 करोड़ रुपये खर्च का प्रावधान किया गया है।

स्वास्थ्य केंद्रों तक परिवहन सुविधा होगी उपलब्ध

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान परिस्थिति में सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में एंबुलेंस की उपलब्धता को बढ़ाया जाना आवश्यक है ताकि ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले संक्रमित/ बीमार व्यक्तियों को चिकित्सा हेतु स्वास्थ्य केंद्रों तक परिवहन सुविधा उपलब्ध हो सके। इसके लिए मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के अंतर्गत एंबुलेंस क्रय के लिए अनुदान का प्रावधान किया गया है। 

प्रत्येक प्रखंड में 2 लाभार्थी को मिलेगा लाभ

परिवहन विभाग मंत्री शीला कुमारी के अनुसार प्रत्येक प्रखंड में 2 लाभार्थी एक अनुसूचित जाति से तथा एक अत्यंत पिछड़ा वर्ग से होंगें।

आठवें चरण में 13000 आये हैं आवेदन

मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन के आठवें चरण में 13000 लोगों से आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। आठवें चरण में जिन आवेदकों के द्वारा आवेदन किया जा चुका है उनमें से इच्छुक आवेदकों से एंबुलेंस के क्रय का विकल्प प्राप्त किया गया था। 

कोटिवार एवं रिक्ति के अनुरूप वरीयता सूची का किया गया है निर्माण

एंबुलेंस के क्रय से संबंधित नए एवं पूर्व में प्राप्त आवेदनों के आधार पर कोटिवार एवं उपलब्ध रिक्ति के अनुरूप वरीयता सूची का निर्माण कर आवदेकों का चयन किया गया है। 

सभी एंबुलेंस ऑक्सीजन युक्त तथा बेसिक चिकित्सा सुविधा से लैस होगा

इस योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में गंभीर रोग से ग्रसित मरीजों को बड़े अस्पताल जाने में परेशानी नहीं होगी यह सभी एंबुलेंस ऑक्सीजन युक्त तथा बेसिक चिकित्सा सुविधा के साथ होंगी।

रोजगार के साथ चिकित्सा सुविधा

ग्रामीण क्षेत्रों में एंबुलेंस की कमी काफी समय से थी इस योजना के आ जाने से यह कमी कम होगी तथा स्थानीय लोगों को रोजगार मिलने के साथ-साथ चिकित्सा सुविधा भी उपलब्ध हो पाएगी।

योजना के तहत अब तक 36000 लोगों को मिला है रोजगार

मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत अब तक 36000 लोगों को वाहन उपलब्ध करवाया जा चुका है तथा यह सभी अपने अपने क्षेत्र में रोजगार के साथ-साथ लोगों को आवागमन की सुविधा भी उपलब्ध करवा रहे हैं। 

अनुदान

चयनित आवेदनों से प्रति प्रखंड 2 लाभुक (1 अनुसूचित जाति/ जनजाति एवं 1 अत्यंत पिछड़ा वर्ग को एंबुलेंस की खरीद पर अनुदान का लाभ दिया जाएगा। वही एंबुलेंस के क्रय पर क्रय मूल्य का 50% परंतु अधिकतम 2 लाख रुपये के अनुदान का प्रावधान किया गया है। प्रति प्रखंड अधिकतम 2 लाभुकों को अनुदान का भुगतान किया जाएगा।

योजना का लाभ

राज्य में 1068 एंबुलेंस की शीघ्रता से आपूर्ति होगी। रोजगार का सृजन होगा। आपातकालीन स्वास्थ सुविधा घर तक उपलब्ध होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य संबंधित आधारभूत संरचना का विकास होगा। एंबुलेंस की बढ़ती मांग को पूरा किया जा किया जा सकेगा।

पटना से अनिल कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News