विदेश भेजने के नाम पर मुंबई और दिल्ली के ऐजेंट बना रहे फर्जी वीजा

विदेश भेजने के नाम पर मुंबई और दिल्ली के ऐजेंट बना रहे फर्जी वीजा

डेस्क... विदेशों में नौकरी का सपना पाले युवकों को कई बार ठगी का शिकार होना पड़ता है। सही जानकारी के अभाव में कई बार फर्जीवाड़े तरीके से विदेश जाने के बाद उन्हें कई मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। अधिक पैसे कमाने के लालच में कुछ ऐसे एजेंट हैं जो इन दिनों फर्जी वीजा बनाकर लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं। बता दें कि विदेश मंत्रालय के पटना स्थिति कार्यालय प्रोटेक्टर ऑफ इमिग्रेट्स कार्यालय को दो माह में 50 फर्जी वीजा की शिकायत मिली थी। इसके बाद जब इसकी जांच की गई, तो मालूम हुआ कि इन सभी वीजा को बिहार के किसी एजेंट ने दिल्ली, मुंबई के एजेंट से मिलकर बनवाया है। जांच के अनुसार यह सभी फर्जी है।

अभी तक 30 से अधिक वीजा पूरी तरह से फेक पाए गए हैं। इसकी सूचना विदेश मंत्रालय को भी भेज दी गई है। इनको बनवाने में सबसे अधिक सिवान, किशनगंज व गोपालगंज के लोग हैं। कार्यालय के मुताबिक हर साल एक लाख 20 हजार से अधिक लोग नौकरी के लिए राज्य के विभिन्न जिलों से 18 से अधिक देशों में जाते हैं, लेकिन इसमें से 50 हजार से अधिक मजदूर ही निबंधित एजेंसी से भेजे जा रहे हैं। बाकी गलत तरीके से फर्जी वीजा या टूरिस्ट वीजा पर भेजे जाते हैं। ऐसे फर्जीवाड़ा करने वालों के लिए कई धाराएं हैं, जिसके तहत कम से कम सात वर्ष के कैद का प्रावधान है।

राज्यभर में 11 निबंधित एजेंट हैं। जिनके माध्यम से लोग दूसरे देशों में जा सकते हैं, लेकिन जांच में 44 से अधिक एजेंसियों को नाम सामने आए हैं। इसमें से कुछ एजेंसियों ने निबंधन कराने के लिए आवेदन दिया है, लेकिन बाकी सभी को जांच कर बंद कराने का आदेश जारी किया गया है। बाहर जाने के पहले किसी भी तरह की परेशानी का सामना करने पर 9431246620, 9835251912 नंबर पर व्हाट्सएप करने की सलाह दी गई है। सभी कागजात की जांच करा लें। यह सुविधा बिल्कुल मुफ्त है।



Find Us on Facebook

Trending News