त्योहारों के बीच कराए जाएंगे निकाय चुनावी पर्व, यह हो सकती है वोटिंग की संभावित तिथि

त्योहारों के बीच कराए जाएंगे निकाय चुनावी पर्व, यह हो सकती है वोटिंग की संभावित तिथि

PATNA : बिहार में नगर निकाय चुनाव को लेकर तैयारियां जोर शोर से शुरू कर दी गई है। साथ ही यह बात भी सामने आई है कि चुनाव दशहरा और दीवाली के बीच दो चरणों में कराए जाएंगे। जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार पहले चरण का चुनाव 10 अक्टूबर और दूसरे चरण का चुनाव 20 अक्टूबर को हो सकता  है। 

ईवीएम और बैलेट दोनों का हो सकता है प्रयोग

राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों को निर्देश दिया है कि पहले चरण के मतदान के लिए 8 अक्टूबर तक बैलेट यूनिट में मतपत्र लगाकर तैयार कर लें। साथ ही दूसरे चरण में उपयोग आने वाले इवीएम में 18 अक्टूबर तक बैलेट यूनिट मतपत्र के साथ तैयार करने को कहा गया है। बता दें कि 5 अक्टूबर को विजयादशमी है जबकि 24 अक्टूबर को दिवाली का त्योहार है।

मतदाता सूचि छपवाने का काम अंतिम चरण में

चुनाव आयोग ने सभी जिलों को निर्देश दिया कि मतदाता सूची के तहत नगर निकाय के अंतर्गत महत्वपूर्ण व्यक्तियों का नाम नहीं छूटे। वार्डवार और मतदान केंद्र वार मतदाता सूची की तैयारी और उसकी छपाई की जाए। मतदाताओं के नाम जोड़ने या उन्हें वार्ड में शिफ्ट करने संबंधी कार्य किए जाएं। आयोग ने यह भी निर्देश दिया है कि महत्वपूर्ण व्यक्तियों के नाम नहीं छूटे होने से संबंधित निबंधन पदाधिकारियों से प्रमाण पत्र प्राप्त कर आयोग को भेजी जाए। 30 अगस्त से 5 सितंबर तक जिलों को संशोधित मतदाता सूची की छपाई करानी होगी।

4 सितंबर तक प्रकाशित होगी बूथों की फाइनल लिस्ट

चुनाव आयोग के अनुसार अब तक 224 नगर निकायों में बूथ गठन का निर्देश जिलों को दिया गया है। आयोग ने कहा है कि बूथों के गठन में मानक का ध्यान दिया जाए। उसमें सभी मूलभूत सुविधाएं अवश्य हो, इस पर भी ध्यान दिया जाना आवश्यक है। आयोग के अनुसार मतदान केंद्र की स्थापना निजी भवन में या दूसरे वार्ड में बिना तीन सदस्यीय कमेटी से जांच कराए गठित किया जा रहा है। इसके कारण आयोग कार्यालय से अनुमोदन में कठिनाई आ रही है और इससे संबंधित प्रस्ताव को वापस करना पड़ रहा है। इस स्थिति में मतदान केंद्र स्थापना संबंधी कार्य समय पर पूरा नहीं हो सकेगा।

Find Us on Facebook

Trending News