प्रेम के आगे टूटी मजहब की दीवारें, झारखंड की मुस्लिम लड़की ने रचाई बेगूसराय के सोहन से शादी

प्रेम के आगे टूटी मजहब की दीवारें, झारखंड की मुस्लिम लड़की ने रचाई बेगूसराय के सोहन से शादी

बेगूसराय। किसी ने सच ही कहा है प्यार अंधा होता है। प्यार ना जातदेखता है  न ही धर्म देखता है।  प्यार जब परवान चढ जाता है तो सारी हदें भी पार कर जाता है। ऐसा ही कुछ नजारा  बेगूसराय में देखने को मिला। जहां मजहब की दीवार को तोड़ एक प्रेमी युगल ने शादी रचाई। जहां बहुजन समाज के लड़के ने मुस्लिम समाज की लड़की से शादी कर अपने प्यार को और भी मजबूती प्रदान की।  प्रेमी युगल ने नौलखा मंदिर परिसर में शादी समारोह में रीति-रिवाज के साथ शादी रचाई। 

झारखंड के हजारीबाग की सादिया परवीन का बेगूसराय के निपानिया गांव के सोहन कुमार दास से दो साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। दोनों की प्रेम कहानी तब शुरू हुई जब दो साल पहले सोहन हजारीबाग में नन बैंकिंग कंपनी में काम कर रहे थे, तभी दोनों में दोस्ती हुई और फिर प्यार हो गया। प्यार परवान चढ़ा तो दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाई। सादिया परवीन सोहन के साथ बेगूसराय पहुंची। शनिवार को शहर के नौलखा मंदिर में पूरे हिन्दू रीति-रिवाज से शादी कर ली। शादी के बाद दोनों प्रेमी जोड़ा काफी खुश है। 

इस दौरान लड़के के परिवार वाले मौजूद थे। जय मंगला वाहिनी सामाजिक संगठन के लोग भी मंदिर में शादी के दौरान मौजूद रहे। प्रेमी जोड़े ने बताया कि दोनों ने प्यार किया था, प्यार के बाद शादी की है। सादिया ने कहा कि प्यार में जाति-धर्म नहीं देखी जाती है। उसे सोहन से प्यार हुआ और अब शादी की है। उसके साथ हमेशा रहेगी। वहीं शादी के बाद सादिया अब शालिनी बन गई है 

प्यार के लिए चर्चित हो रहा है बेगूसराय

बेगूसराय का नाम अब प्रेम के लिए चर्चित होने लगा है। कुछ दिन पहले ही एक प्रेमी जोड़े ने घरवालों के मर्जी के खिलाफ जाकर शादी रचाई थी। परिवार वालों ने उन्हें मारने की धमकी दी, गोली भी चलवाई, लेकिन वह प्रेमी जोड़ा अलग नहीं हुआ। अंत में कोर्ट ने भी उनके रिश्ते पर मोहर लगा दी। दो दिन पहले ही लोगों ने रिति रिवाजों के साथ उनकी शादी रचाई थी।

Find Us on Facebook

Trending News