मुज्ज़फरपुर बालिका गृह कांड मामले पर तेजस्वी का बड़ा आरोप, अभी भी तोंद और मूंछ वाले मंत्री बचे हुए हैं

PATNA : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एकबार फिर से नीतीश सरकार और सीबीआई पर सनसनीखेज आरोप लगाया हैं। विधानसभा परिसर मे मीडिया से बातचीत मे तेजस्वी ने कहा है कि मुजफ्फरपुर बालिकागृह कांड़ में  सीबीआई द्वारा बिहार के सीएम और उनके नज़दीकियों को संरक्षण दिया जा रहा है। इन लोगों की अपराध और अपराधियों को बचाने में सीधी संलिप्तता है। सुप्रीमकोर्ट द्वारा रोक के बावजूद नीतीश कुमार को बचाने के लिए CBI जांच अधिकारी का तबादला कर दिया जाता है। मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की सीडीआर डिटेल्स सार्वजनिक की जाए क्योंकि अभी भी तोंद और मूंछ वाले मंत्री बचे हुए हैं।

तेजस्वी ने सीएम पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि उनका सबसे क़रीबी नेता का पीए मधुबनी बालिका गृह चलाता था, जहां से लड़कियां ग़ायब हुई और उनकी हत्या भी हुई। आखिर सीएम नीतीश  मधुबनी बालिका गृह कांड का ज़िक्र करने में क्यों शर्माते हैं?

सृजन घोटाले को भी दबाने की कोशिश

नेता प्रतिपक्ष ने सृजन घोटाले को भी दबाने का आरोप लगाया है। उन्होनें कहा कि CBI अभी तक 3000 करोड़ के सृजन घोटाले के मुख्य अभियुक्त को नहीं पकड़ सकी है। इसके पीछे वजह साफ है कि उन घोटालेबाजों की नीतीश कुमार और सुशील मोदी की रसोई तक पहुंच है। उन्होंने कहा कि नीतीशजी अपनी गर्दन बचाने और 40 घोटालों में हुए भ्रष्टाचार के पाप धोने के लिए बीजेपी की शरण मे गए हैं।

विधानसभा मे मेरा माईक बंद किया जाता है

तेजस्वी ने आरोप लगाया कि सदन की कार्यवाही के दौरान उन्हें बोलने नही दिया जाता।बोलने पर उका माईक बंद कर दिया जाता है। उन्होनें सदन मे कार्य स्थगन प्रस्ताव लाया जिसे आसन ने स्वीकार नही किय़ा है।

गणेश सम्राट की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News