काराकाट में जेडीयू के कुशवाहा नेताओं की हो रही फजीहत, जब नागमणि का हुआ विरोध तो दे दिया खुला चैलेंज...

PATNA : जेडीयू काराकाट के रण में उपेन्द्र कुशवाहा को मात देने के लिए पूरी कोशिश कर रही है। मिशन को कामयाब बनाने के लिए कुशवाहा नेता काराकाट में कैंपेन कर रहे हैं। पार्टी नेतृत्व ने अपने कुशवाहा नेताओं को समाज के वोटरों को पाले में लाने का लक्ष्य दिया है।लेकिन कुशवाहा वोटरों को जेडीयू के पाले में लाने में जेडीयू नेताओं को भारी फजीहत झेलनी पड़ रही है।

जेडीयू के कुशवाहा नेताओ का निकल रहा पसीना

जेडीयू ने कुछ दिन पहले तक उपेन्द्र कुशवाहा के सारथी रहे नागमणि को अब काराकाट इलाके में कुशवाहा वोटरो को उपेन्द्र कुशवाहा से तोड़कर जेडीयू के पक्ष में लाने का जिम्मा दिया है। नागमणि काराकाट के रण में उपेन्द्र कुशवाहा के खिलाफ खूब पसीना बहा रहे।लेकिन उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।अपने हीं समाज के लोग नागमणि का भारी विरोध कर रहे हैं।स्थानीय लोग नागमणि को चैलेंज दे रहे हैं।जवाब में जदयू नेता नागमणि भी चैलेंज दे रहे कि अगर उपेन्द्र कुशवाहा चुनाव जीत गया तो राजनीति से सन्यास ले लेंगे।

नागमणि कर रहे चैलेंज

एक विडीयो वायरल हो रहा जिसमें नागमणि काराकाट इलाके के एक कुशवाहा बहुल गांव में वोट मांगने गए हैं।लेकिन वहां उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है।स्थानीय लोग नागमणि के सवाल-जवाब कर रहे हैं।ग्रामीण नागमणि से पूछ रहे हैं कि नीतीश कुमार ने समाज के लिए कौन काम किया है जो हम उपेन्द्र कुशवाहा का साथ छोड़ आपके साथ आ जायें। काफी देर तक सवाल जवाब होते रहा।अंत में अपना विरोध होते देख गुस्से से लाल नागमणि ने ग्रामीणों को चैलेंज देते हुए कहा कि अगर कुशवाहा चुनाव जीत गया तो वे राजनीति से सन्यास ले लेंगे।इसके बाद ग्रामीण और भी उग्र हो गए और उपेन्द्र कुशवाहा जिंदाबाद,महागठबंधन जिंदाबाद और नीतीश कुमार मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे।

गांव में विरोध बढ़ता देख नागमणि वहां से निकल जाने में ही अपनी भलाई समझी। लिहाजा वे उस गांव से निकल गए।

Find Us on Facebook

Trending News