नाजरथ शेल्टर होम से लड़कियों के भागने में था बड़ा खेल, सब बता रहे अपनी अलग कहानी

नाजरथ शेल्टर होम से लड़कियों के भागने में था बड़ा खेल, सब बता रहे अपनी अलग कहानी

PATNA : दो दिन पहले मोकामा के नाजरथ शेल्टर होम से फरार हुई लड़कियों के मामले में नया खुलासा सामने आ रहा है। शेल्टर होम से भागी हुई लड़कियों ने पुलिस के सामने खुद से कबूल किया है कि वह खिड़की का ग्रिल काटकर वहां से नहीं निकली थीं। लड़कियां शेल्टर होम के गेट से निकलकर बाहर आयीं। शेल्टर होम से निकल भागने के पीछे लड़कियों ने घर वालों के पास वापस जाने को कारण बताया। 

जिस वक्त शेल्टर होम से 7 लड़कियां बाहर निकली उस समय गेट पर तैनात गार्ड ड्यूटी पर नहीं था। 7 में से 6 लड़कियां ट्रेन पर सवार होकर मोकामा से बरौनी पहुंची और वहां से दूसरी ट्रेन लेकर दरभंगा पहुंच गई। इनमें से एक लड़की बंगाल के दिनाजपुर की रहने वाली थी जिसे एक युवक मोकामा से ही अपने साथ ले गया। इस लड़की को अब तक पुलिस बरामद नहीं कर सकी है। 

इस मामले की छानबीन कर रही पुलिस अब पक्के तौर पर यह बात समझ चुकी है कि मोकामा शेल्टर होम से लड़कियां खुद नहीं भागी थी बल्कि उन्हें पूरी प्लानिंग के साथ भगाया गया था। पुलिस को शेल्टर होम से फरार लड़कियों ने जो जानकारी दी है उसके मुताबिक वहां तैनात पुरुष कर्मचारियों के साथ उनके रिश्ते अच्छे नहीं थे। इस महीने की 17 और 20 तारीख को शेल्टर होम की लड़कियों ने हंगामा भी किया था लेकिन प्रबंधन ने यह बात बाहर नहीं आने दी। पुलिस इस पूरे मामले में शेल्टर होम के गार्ड और कई अन्य कर्मचारियों की भूमिका को संदिग्ध मान कर चल रही है।

Find Us on Facebook

Trending News