CM नीतीश के सपनों को साकार करने में विफल रहने वाले ठेकेदारों पर एक्शन,नल-जल योजना में काम नहीं करने कंपनी पर कार्रवाई

CM नीतीश के सपनों को साकार करने में विफल रहने वाले ठेकेदारों पर एक्शन,नल-जल योजना में काम नहीं करने कंपनी पर कार्रवाई

पटना : बिहार में आगामी कुछ महीनों में विधानसभा के चुनाव होने हैं। लिहाजा सीएम नीतीश के सपनों को साकार करने में विफल रहने पर कई ठेकेदारों पर कार्रवाई की गई है।हर घर जल पहुंचाने में विफल रहने वाले 1 दर्जन से अधिक ठेकेदारों के खिलाफ लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग ने कार्रवाई की है।

 ऐसे दर्जन भर से अधिक ठेकेदार हैं जिन्होंने हर घर नल जल का योजना में काम तो लिया लेकिन समय पर पूरा नहीं किया। इनमें से कुछ ऐसे भी हैं जिन्होंने काम खत्म करने की तारीख होने पर भी योजना में हाथ भी नहीं डाला ।विभाग इस श्रेणी के ठेकेदारों की सूची बना रहा है। प्राथमिक कार्रवाई के तहत इन ठेकेदारों के फॉर्म को विभाग में आगे कोई काम नहीं देने का फैसला लिया गया है। सहरसा में एक ठेकेदार का इकरारनामा देखा गया तो पता चला कि मुश्किल से 9 फ़ीसदी काम भी नहीं हो पाया है। 

पंचगछिया में एक कंपनी ने समय खत्म होने के बाद मात्र 6 फ़ीसदी काम किया था। सहरसा के कार्यपालक अभियंता ने कारण बताओ नोटिस जारी किया। सहरसा में और कई ऐसे ठेकेदार थे जिनकी समय सीमा खत्म होने के बाद भी कोई 10 फ़ीसदी तो कोई 20 फीसदी काम कर पाया था। औरंगाबाद में भी एक ठेकेदार को काम से रोका गया है ।उसे फ्लोराइड रिमूवल यूनिट सहित मिनी जलापूर्ति योजना का काम दिया गया था। यह काम 12 जनवरी 2019 को ही पूरा होना था अब तक पूरा नहीं हो पाया। अंजन इंफ्रास्ट्रक्चर कोलकाता को बांका में एकल ग्रामीण जलापूर्ति योजना को पूरा करने का ठेका दिया गया था। काम समाप्त होने की तारीख 21 जुलाई 2020 तक तिथि उस तारीख तक एजेंसी ने काम भी शुरू नहीं किया था।

Find Us on Facebook

Trending News