नालंदा पर सीएम नीतीश मेहरबान, नानंद में 252 करोड़ रूपये की योजनाओं का किया शिलान्यास एवं उद्घाटन

नालंदा पर सीएम नीतीश मेहरबान, नानंद में 252 करोड़ रूपये की योजनाओं का किया शिलान्यास एवं उद्घाटन

NALANDA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उद्घाटन और शिलान्यास कार्यक्रम के दूसरे दिन सिलाव प्रखंड अंतर्गत नानंद में 224.2 करोड़ की 68 योजनाओं का शिलान्यास तथा 27.93 करोड़ की 7 योजनाओं का उद्घाटन रिमोट के माध्यम से किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि नानंद की धरती से हमारा लंबे समय से लगाव रहा है, यह जिले का सबसे बड़ा गांव है.

सीएम नीतीश ने कहा कि यहां आज अनेक योजनाओं का उदघाटन एवं शिलान्यास करते हुए मुझे खुशी हो रही है. शिलान्यास की जाने वाली योजनाओं में से मुख्य रूप से ग्रामीण पेयजल आपूर्ति की योजनाएं शामिल हैं. इसके लिए मैं सभी विभागों, विशेषकर लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग को धन्यवाद देता हूं. सीएम ने कहा कि सात निश्चय योजना के तहत गुणवत्ता प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा हर घर नल का जल योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है. जिन पंचायतों में एक भाग गुणवत्ता प्रभावित है तथा दूसरा भाग गैर गुणवत्ता प्रभावित है, वैसे पंचायतों में कार्य तेजी से हो इसलिए दोनों तरह के कार्य लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के माध्यम से ही कराये जा रहे है. सामान्य रूप से गैर गुणवत्ता प्रभावित पंचायतों में हर घर नल का जल निश्चय योजना का कार्य पंचायत के माध्यम से ही कराया जा रहा है.

सीएम ने कहा कि 2 अक्टूबर 2019 को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती तक हम हर घर में शौचालय उपलब्ध कराने को लेकर संकल्पित हैं. जिनके पास शौचालय निर्माण हेतु जगह नहीं है, उन्हें सामुदायिक शौचालय बनाकर व्यक्तिगत रूप से चाबी दी जा रही है. शौचालय निर्माण के साथ-साथ इसके उपयोग को लेकर व्यवहार परिवर्तन भी अत्यंत आवश्यक है. शौचालय निर्माण के बाद महिलाएं तो इसका उपयोग करती हैं, परंतु पुरुष पूर्व की भांति खुले में ही शौच के लिए जाते हैं इसलिए उन्हें अपने व्यवहार में परिवर्तन लाकर घर में बने शौचालय का उपयोग अवश्य करना चाहिए.

मुख्यमंत्री ने शराबबंदी की चर्चा करते हुये कहा कि इससे समाज में चारों ओर शांति का वातावरण है. जो भी व्यक्ति शराबबंदी कानून का उल्लंघन करे एवं गड़बड़ी करे, उस पर नजर रखें तथा ऐसे लोगों के बारे में सूचना टोल फ्री नंबर पर दें आगे सीएन ने कहा कि सरकार राज्य शिक्षा वित्त निगम के माध्यम से उच्च शिक्षा के लिये चार लाख रूपये के ऋण की व्यवस्था की है. इस योजना के तहत 4 प्रतिशत के साधारण ब्याज पर छात्रों को जबकि लड़कियों, दिव्यांगों एवं ट्रांसजेंडरों को एक प्रतिशत के ब्याज पर ऋण उपलब्ध करा रही है. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया. समारोह को लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री विनोद नारायण झा, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार, विधायक रवि ज्योति कुमार ने भी संबोधित किया. 


Find Us on Facebook

Trending News