नशे में धूत दारोगा जी जिले के पुलिस कप्तान से ही करने लगे बहस, तत्काल मिली सजा

नशे में धूत दारोगा जी जिले के पुलिस कप्तान से ही करने लगे बहस, तत्काल मिली सजा

जहानाबाद। सदर अस्पताल में उस समय अफरा तफरी कायम हो गया जब जिले के एसपी दीपक रंजन पूरे दल बल के साथ नगर थाना में तैनात एक सब इंस्पेक्टर को अल्कोहल जांच कराने के लिए अपने साथ लेकर पहुंचे। इस दौरान सब इंस्पेक्टर के द्वारा काफी हंगामा भी किया गया।

ड्यूटी से गायब थे दारोगा जी, एसपी ने किया था तलब

 इस संबंध में बताया जाता है महाशिवरात्रि के दिन देर रात जिले के एसपी के द्वारा शहर में विधि वेवस्था को लेकर औचक निरीक्षण किया गया था।  निरीक्षण के दौरान शहर के मलहचक मोड़ पर ड्यूटी पर लागये गये सब इंस्पेक्टर विजेंद्र चौधरी ड्यूटी से गायब थे। जिसके बाद एसपी ने द्वारा सब इंस्पेक्टर कार्य मे लापरवाही बरते को लेकर जबाब तलब किया गया था और सब इंस्पेक्टर को मिलने के लिये बुलाया गया। लेकिन सब इंस्पेक्टर अपनी बीमारी का बहना बनाते हुए कई बार वरीय अधिकारियों के द्वारा सूचना मिलने के बाद भी नही पहुंचे।

थाने पहुंच गए एसपी

 बाद में जिले के एसपी खुद नगर थाना में पहुच गये और सब इंस्पेक्टर के गलत हरकत देखते हुए शराब सेवन करने के शक में अपने साथ मेडिकल जांच कराने के लिये पहँचे जिससे सब इंस्पेक्टर तिलमिलाते हुए अस्पताल में ही हंगामा शुरू कर दिया। एसपी द्वारा खुद अपने सामने ही उनका अल्कोहल टेस्ट करवाया। इस दौरान अल्कोहल टेस्ट करवाने से नाराज सब इंस्पेक्टर द्वारा एसपी और वरीय अधिकारियों से अनुशासनहीनता और उदण्ड वयवहार करते रहे जिसको लेकर एसपी ने बताया कि इन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया और आगे विभगीय कार्यवाई की जाएगी। इधर सब इंस्पेक्टर विजेंद्र चौधरी एसपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि एसपी द्वारा उन्हें जानबूझ कर फँसाया जा रहा है।।

Find Us on Facebook

Trending News