नशे में था एंबुलेंस चालक, सही समय पर इलाज नहीं मिलने से मासूम की हो गई मौत

नशे में था एंबुलेंस चालक, सही समय पर इलाज नहीं मिलने से मासूम की हो गई मौत

कटिहार।  एंबुलेंस चालक व उनके सहयोगी की लापरवाही से नवजात बच्ची को अपनी जान गंवानी पड़ी। बताया गया जब बच्ची के परिजन अस्पताल में एंबुलेंस की तलाश कर रहे थे, उस समय गाड़ी का चालक और उसका सहयोगी शराब पीने में मस्त रहे और उचित इलाज के अभाव में नवजात की मौत हो गई। बच्ची की मौत के बाद परिजन और स्थानीय लोगों ने जमकर बवाल मचाया। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सहयोगी को हिरासत में ले लिया, वहीं चालक वहां से भागने में कामयाब हो गया। मामले में अब स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी ने जरुरी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। 

यह घटना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, डंडखोरा की है। बताया गया कि मुस्लिम टोला निवासी मु. .नौशाद ने बताया कि प्रसव पीड़ा होने पर उन्होंने अपनी बहन शहजादी खातून को शनिवार की शाम सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था। उनकी बहन ने एक बच्ची को जन्म दिया, लेकिन बच्ची का स्वास्थ्य ठीक नहीं था। बच्ची की स्थिति को देख डा. गिन्नी सिन्हा ने उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया। इसको लेकर वे लोग एंबुलेंस ढूढऩे लगे। अस्पताल परिसर में एंबुलेंस तो लगा था लेकिन ड्राइवर और उसका सहयोगी लापता था। रात लगभग नौ बजे दोनों शराब के नशे में धुत होकर वहां पहुंचा और उल्टे उन लोगों से ही उलझ गया। इसकी सूचना स्वजनों ने पुलिस को दी।


वहीं, स्वजन अन्य माध्यम से नवजात को सदर अस्पताल ले गए लेकिन इलाज में देरी होने के कारण पांच बजे सुबह नवजात ने दम तोड़ दिया। उस समय ही स्वजन नवजात के शव को लेकर सीएचसी पहुंच गए और हंगामा शुरु कर दिया। स्वास्थ्य प्रबंधक एवं रोगी कल्याण समिति के सदस्यों ने एंबुलेंस कर्मी के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर स्वजनों को शांत किया। 

Find Us on Facebook

Trending News