महान गणितज्ञ रामानुजन की जयंती पर राष्ट्रीय गणित दिवस का आयोजन, प्रतियोगिता में सफल विद्यार्थियों को किया गया सम्मानित

महान गणितज्ञ रामानुजन की जयंती पर राष्ट्रीय गणित दिवस का आयोजन, प्रतियोगिता में सफल विद्यार्थियों को किया गया सम्मानित

पटना. भारत के प्रसिद्ध गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन के जन्म दिवस पर आज कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें जीवन विज्ञान, इंजीनियरिंग एवं तकनीकी क्षेत्रों में गणित महत्त्व एवं भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए छात्र-छात्राओं को अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने, गणित विषय में रूचि एवं जागरूकता उत्पन्न करने एवं छात्र-छात्राओं के प्रतिभा को उत्साहित किये जाने के उद्देश्य से राज्य स्तर पर विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग तथा शिक्षा विभाग द्वारा संयुक्त रूप से राष्ट्रीय गणित दिवस का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बिहार के वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी उपस्थित थे। मुख्य अतिथि के द्वारा इस पूरे कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा गया कि राज्य में तकनीकी शिक्षा के विकास के फलस्वरूप इतनी अधिक संख्या में छात्रों की ऑनलाइन परीक्षा सफलतापूर्वक संपन्न कराई गई। प्रत्येक जिलें में इसका आयोजन कराये जाने से सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे भी इससे लाभान्वित हुए हैं और इस पारितोषित वितरण से बच्चें अत्यंत ही प्रेरित और उत्साहित हैं। इस कार्यक्रम को और अधिक व्यापक रूप में किये जाने की आवश्यकता है। सरकार इसे सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए यथा संभव सहयोग करने के लिए कटिबद्ध है।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मंत्री सुमित कुमार सिंह द्वारा कहा गया की आज राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक जिलें में अभियंत्रण एवं पोलिटेकनिक संस्थान स्थापित किये जाने के फलस्वरूप प्रत्येक जिलें में ऑनलाइन टेस्ट का आयोजन संभव हो सका है। उनके द्वारा यह भी बताया गया कि जिला स्तर पर भी सभी राजकीय अभियंत्रण एवं पोलिटेकनिक संस्थान द्वारा गणित दिवस का आयोजन किया जा रहा है। दीपक कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव (शिक्षा विभाग) के द्वारा यह कहा गया कि श्रीनिवास रामानुजन टैलेन्ट सर्च में चयनित छात्रों को नियमित रूप से उन्हें प्रशिक्षण दिया जायेगा ताकि वो राष्ट्रीय एवं अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर होने वाले ओलंपियार्ड में भाग ले सके एवं गणित के क्षेत्र में सफलता एवं उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सके।

लोकेश कुमार सिंह, सचिव, विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग द्वारा सभी सम्मानित अतिथियों का स्वागत किया गया तथा इस कार्यक्रम का एक संक्षिप्त प्रस्तुतीकरण किया गया। उनके द्वारा यह बताया गया कि वर्ष 2021 में 18,726 छात्र निबंधित हुये थे, जिसमें से कुल 8,544 छात्र परीक्षा में सम्मिलित हुए जबकि इस वर्ष कुल 1,41,272 छात्र पंजीकृत हुये जिनमें से कुल 66,020 छात्र / छात्राओं द्वारा परीक्षा में भाग लिया गया। इतनी अधिक संख्या में छात्रों का ऑनलाईन टेस्ट राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालय एवं पोलिटेकनिक संस्थानों में उपलब्ध संसाधनों के कारण संभव हो सका है।

गणित विषय में मेधावी छात्रों को पुरस्कृत किये जाने हेतु वर्ष 2021 से वर्ग 06 से 12 के छात्र / छात्राओं को जिलास्तर पर श्रीनिवास रामानुजन टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथेमेटिक्स का ऑनलाईन आयोजन राज्य में स्थापित सभी जिलों के राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालयों एवं राजकीय पोलिटेकनिक संस्थानों में ही किया जा रहा है। इस हेतु विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के द्वारा ऑनलाईन टेस्ट कराने हेतु पोर्टल विकसित किया गया है। वर्ष 2021 में श्रीनिवास रामानुजन टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथेमेटिक्स ऑनलाईन टेस्ट में 18,726 छात्र निबंधित हुये थे, जिसमें से कुल 8,544 छात्र परीक्षा में सम्मिलित हुए।

इस वर्ष उक्त कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया। शिक्षा विभाग, बिहार, पटना तथा बिहार मैथेमेटिकल सोसाईटी के द्वारा भी सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को पत्र तथा विडियों कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से आवश्यक निदेश एवं मार्गदर्शन प्रदान किया गया, ताकि अधिक से अधिक छात्र-छात्राएं ऑनलाईन टेस्ट में भाग ले सकें। परिणामस्वरूप, इस वर्ष कुल 1.41.272 छात्र पंजीकृत हुए, जिनमें से कुल 66,020 छात्र-छात्राओं द्वारा परीक्षा में भाग लिया गया।

वर्ग 06 से 12 (कुल सात स्तर पर ) के छात्र / छात्राओं को श्रीनिवास रामानुजन टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथेमेटिक्स ऑनलाईन टेस्ट के आधार पर जिला स्तर पर प्रथम, द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ एवं पंचम स्थान प्राप्त छात्र / छात्राओं को क्रमशः रु० 2000/-, रुपये 1500/- रुपये 800/-, रुपये 700/- एवं रुपये 600/- का पुरस्कार राशि तथा राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त 18 छात्रों को रुपये 45,000.00 रुपये 40,000.00 एवं रुपये 35,000. 00 मूल्य का लैपटॉप पुरस्कार के रूप में प्रदान किया गया। जिला स्तर पर प्रत्येक कक्षा के प्रथम, द्वितीय स्थान प्राप्त तथा राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान प्राप्त छात्रों को (कुल 529 छात्र ) आज ज्ञान भवन, अशोक सम्राट कनवेंशन सेंटर, पटना में पुरस्कृत किया गया। इन छात्रों को एक अभिभावक के साथ पटना आने-जाने हेतु अतिरिक्त रु0 1000 /- की राशि प्रदान किया गया।

पुरस्कृत किये जाने वाले छात्र / छात्राओं की संख्या जिला में प्रखंडों की संख्या के आधार पर निर्धारित किया गया है ताकि समानुपातिक प्रतिनिधित्व प्रत्येक जिला से हो सके। दस प्रखंड, बीस प्रखंड तथा बीस से अधिक प्रखंड वाले जिले से क्रमशः तृतीय, चतुर्थ तथा पंचम स्थान प्राप्त छात्रों को पुरस्कृत किया जा रहा है। इस प्रकार कुल 1036 छात्रों को पुरस्कृत किया गया। इसके अतिरिक्त 6ठे से 10वें स्थान तक के छात्रों को सांत्वना पुरस्कार तथा मेडल प्रदान किया गया।

राज्य में स्थापित सभी जिलों के राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालयों एवं राजकीय पोलिटेकनिक संस्थानों (कुल 38) में भी आज राष्ट्रीय गणित दिवस का आयोजन किया गया। इस हेतु आवश्यक राशि संस्थानों को प्रदान कर दी गई है। जिला स्तर पर प्रत्येक कक्षा के तृतीय से दसवें स्थान प्राप्त छात्रों को राज्य में स्थापित सभी जिलों के राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालयों / राजकीय पोलिटेकनिक संस्थानों (कुल 38) में पुरस्कृत किया गया।

Find Us on Facebook

Trending News