नवादा सदर अस्पताल में नवजात की मौत, डॉक्टर और परिजनों ने कहा- अस्पताल कर्मी मांगते है कमीशन

नवादा सदर अस्पताल में नवजात की मौत, डॉक्टर और परिजनों ने कहा- अस्पताल कर्मी मांगते है कमीशन

नवादा: जिले के सदर अस्पताल के महिला वार्ड में प्रसव के बाद अस्पताल के नर्सों द्वारा नाजायज राशि मांगने का आरोप एक बार फिर लगा है। शनिवार की सुबह करीब 6:15 बजे नरहट प्रखंड के पुनौल गांव निवासी धर्मेंद्र कुमार की पत्नी यशोदा देवी को प्रसव के बाद एक लड़का जन्म लिया। जिस के कुछ देर बाद ही उस नवजात बच्चे की मौत हो गई। 

इस पूरी घटना में पीड़ित परिजन पति धर्मेंद्र कुमार ने ड्यूटी पर तैनात एएनएम व जीएनएम पर आरोप लगाते हुए कहा कि शुक्रवार की रात्रि में प्रसव पीड़ा से कराहती हुई उसकी पत्नी की डिलीवरी के लिए नर्सों ने ₹2000 की मांग की और फिर नर्स को  ₹1000 दिया गया। बावजूद उसके पत्नी की डिलीवरी में लापरवाही बरती गई. जिसके चलते उसके बच्चे की मौत हो गई। इस घटना में पीड़ित परिजन के एक और सदस्य राजेंद्र प्रसाद ने आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें इस पूरे मामले में इंसाफ चाहिए। इधर इस पूरे घटना की जांच को लेकर महिला वार्ड पहुंचे एसीएमओ डॉ मधुसूदन प्रसाद ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है। बच्चे की मौत की वजह किस वजह से हुई और साथ ही पीड़िता से नाजायज राशि मांगने की शिकायत की जांच की जा रही है.

इधर सदर अस्पताल की डॉ मधु सिन्हा ने कहा कि बच्चे की हालत ठीक नहीं थी उसे क्रॉनिक रोग था. इसी क्रम में डॉ मधु सिन्हा ने कहा कि वे काफी डर-डर के यहां ड्यूटी करती हैं. कई बार उन्हीं से अस्पताल की ममता व आशा, प्रसव के नाम पर कमीशन मांगने पहुंच जाती है। इन सब को लेकर वह खुद चिंतित हैं।प्रशासन को कर्रवाई करनी चाहिए। बहरहाल, सदर अस्पताल नवादा में महिला मरीज से प्रसव के नाम पर नजायज राशि मांगने का यह मामला कोई नया नहीं है । इससे पहले भी सदर अस्पताल में इस तरह के आरोप लगते रहे हैं । कई बार तो हंगामा की घटनाएं भी हो चुकी हैं। देखना होगा मामले में पीड़िता को कब तक इंसाफ मिल पाता है।

Find Us on Facebook

Trending News