नवादा में शिक्षा विभाग की लापरवाही, 2 माह से BBOSE की किताब अब तक विभाग में पड़ी

नवादा में शिक्षा विभाग की लापरवाही, 2 माह से BBOSE की किताब अब तक विभाग में पड़ी

नवादा : नवादा शिक्षा विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. जो किताबें स्टूडेंट को पढ़ने के लिए उपलब्ध कराई गयी है वह खुले में ऐसी ही फेंकी पड़ी है.  

BBOSE(बिहार मुक्त विद्यालई शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड)के माध्यम से मैट्रिक एवं इंटर करने वाले स्टूडेंट्स को यह किताबें स्कूल के माध्यम से दी जानी है।मगर यह किताबें अभी तक विभाग के कार्यालय में यूं ही पड़ी है.

नवादा जिले में कुल 59 माध्यमिक विद्यालयों में इसे भेजा जाना है. मगर महज 12 विद्यालय में ही इसे भेजा जा सका है, जिसके कारण कई बोरे में किताब विभाग के कार्यालय में यूं ही पड़ी हुई है। BBOSE के माध्यम से मैट्रिक व इंटर का कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों को स्टडी सेंटर से किताबों की उपलब्धता नहीं हो पाई है। मैट्रिक व इंटरमीडिएट की परीक्षा में असफल छात्रों के अलावा स्वतंत्र रूप से पढ़ाई करके डिग्री लेने को इच्छुक छात्रों  बिहार मुक्त विद्यालय शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड से परीक्षा फॉर्म भरते हैं। जिले में 59 स्टडी केंद्र की किताबें शिक्षा कार्यालय में पिछले 2 माह से यूं ही पड़ा हुआ है। परीक्षा की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को यदि एक किताब समय से मिल जाए तो अपनी तैयारियों को और बेहतर बना सकते हैं। बोर्ड ने छात्रों को सुविधा दे रखी है मगर छात्रों को यह सुविधा नहीं मिल पा रही है। 

  इस मामले पर जिला शिक्षा पदाधिकारी का कहना है इंटर एवं मैट्रिक परीक्षा लगातार हो जाने के कारण व्यस्तता आ गई थी, जिसके कारण कई विद्यालय में यह किताब नहीं पहुंच पाई है। धीरे-धीरे सभी किताबों को पहुंचा दिया जाएगा। वहीं कार्यालय में कार्यरत कर्मी का कहना है कि पिछले 2 माह से यह किताबें यहां यूं ही पड़ी हुई है। विद्यालयों को सूचना देने के बाद भी यहां से किताबें को नहीं भेजा जा सका है। जिसके कारण किताबें यहां पर धूल फांक रही है।

Find Us on Facebook

Trending News