नेवी जवान की सड़क हादसे में हुई मौत, शव के गांव पहुंचते ही अंतिम दर्शन के लिए उमड़ी भीड़, नम आंखों के बीच हुआ अंतिम संस्कार

 नेवी जवान की सड़क हादसे में हुई मौत, शव के गांव पहुंचते ही अंतिम दर्शन के लिए उमड़ी भीड़, नम आंखों के बीच हुआ अंतिम संस्कार

AURANGABAD : गुजरात के पोरबंदर में कार्यरत नेवी जवान 23 वर्षीय राज दीपक की सड़क हादसे में मौत हो गई। जिसके बाद शनिवार की सुबह जैसे ही उसका शव रफीगंज प्रखंड के कोटवारा पंचायत के गोठानी गांव पहुंचा तो उसके अंतिम दर्शन को लेकर ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी और माहौल काफी गमगीन हो गया। परिजनों की चीख पुकार से ग्रामीणों के साथ साथ शव को लेकर पहुंचे नेवी के जवानों की आंखें भी नम हो गई। मातमी माहौल में राज दीपक का अंतिम संस्कार छोटे भाई भानु प्रताप सिंह ने मुखाग्नि देकर की।इस दौरान सैकड़ों की संख्या में उपस्थित ग्रामीणों ने उसे अंतिम विदाई दी।

शव को साथ लेकर आए जवानों ने बताया कि राज बुधवार की शाम ड्यूटी से अपने आईएनएएफ 314 नेवेल एयर इनक्लेव एयर पोर्ट रोड यूनिट अपने एक दोस्त के साथ जा रहा था। इसी दौरान यूनिट आने के क्रम में एक ट्रक ने उसकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। जिससे वह और उसका मित्र घायल हो गया। हादसे के बाद स्थानीय लोगों के द्वारा दोनों को घायल अवस्था में पास के ही एक अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। मगर हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए राज को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया था।राज दीपक के हादसे की खबर सुनकर यूनिट के सभी जवान अस्पताल पहुंचे और उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए औरंगाबाद लाया गया।

2016 में की थी नेवी में ज्वायनिंग

 बताया जाता है कि गोठानी गांव के अनिल कुमार सिंह के पुत्र राज दीपक ने वर्ष 2016 में गुजरात के पोरबंदर में नेवी के तकनीकी विंग में ज्वाइन किया और अपनी नौकरी के बाद से ही अपने बड़े और छोटे भाइयों की पढ़ाई के साथ साथ घर गृहस्थी की जिम्मेवारी अपने कंधों पर ले ली। राज के दोनों भाई विकास और भानु प्रताप दिल्ली में रहकर कमीशन की तैयारी कर रहे है। 

Find Us on Facebook

Trending News