नवादा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मजदूर की नृशंस हत्या में शामिल दो अपराधी गिरफ्तार

नवादा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, मजदूर की नृशंस हत्या में शामिल दो अपराधी गिरफ्तार

नवादा : नवादा में मजदूर सरयुग राम की नृशंस हत्या मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है. देर रात दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी हुई. पकड़े गए अपराधियों में रोह थाना के मोरमा गांव निवासी बबन यादव और पकरीबरावां थाना के सलेमपुर निवासी कारु चौधरी शामिल है.

दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने रविवार को घटनास्थल से पश्चिम करीब 150 मीटर की दूरी पर एक पइन के समीप मृतक का सिर बरामद कर लिया। इस संबंध में एसडीपीओ श्रीप्रकाश सिंह ने बताया कि ट्रैक्टर चालक भूषण कुमार से घटना की विस्तृत जानकारी और अपराधियों का हुलिया लिया गया। इसके बाद हत्या में संलिप्त बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की गई। पुलिस ने मोरमा गांव पहुंच बबन को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। कड़ी पूछताछ में बबन ने अपने एक साथी सलेमपुर गांव के कारु चौधरी के नाम का खुलासा किया। तब तत्काल सलेमपुर से उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। मृतक सरयुग राम रोह थाना क्षेत्र के साथे गांव निवासी रामदयाल राम का 31 वर्षीय पुत्र था। 

क्या है घटना

मृतक शनिवार की रात ट्रैक्टर से धान का पुआल मोरमा से साथे गांव ले जाया जा रहा था। ट्रैक्टर पर चालक भूषण कुमार, मजदूर सरयुग राम और टुनटुन चौरसिया सवार थे। पकरीबरावां-रोह भाया एरूरी संपर्क पथ पर सलेमपुर गांव के समीप दो अपराधियों ने हथियार के बल पर रास्ता रोककर बतौर रंगदारी 20 हजार रुपये की मांग की। तब चालक ने पास में मात्र 50 रुपये होने की बात कही। इतना सुनते ही अपराधियों ने गाली-गलौज शुरु कर दी। इसी बीच सरयुग को गोली मार दी गई। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। उसके बाद अपराधियों ने मजदूर का सिर धड़ से अलग कर दिया और वहां से दूर ले जाकर पइन की तरफ फेंक दिया। 

पहले गोली मारी फिर ट्रैक्टर से भी कुचल डाला

चालक ने बताया कि सरयुग को गोली मारने के बाद भी अपराधियों का दिल नहीं पसीजा। कारु चौधरी उसे पकड़े रखा और उससे गाड़ी की चाबी छीन ली। गोली मारने के बाद बबन ने सरयुग को उसी ट्रैक्टर से कुचल दिया। इसके बाद चाबी लौटा दी और भागने को कहा। जिसके बाद वह अपनी जान बचाकर भाग निकला। ट्रैक्टर चालक से घटना की विस्तृत जानकारी लेने के बाद हत्याकांड में संलिप्त अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी शुरु की गई। अपने-अपने घर में सो रहे बबन और कारु को पुलिस ने गिरफ्तार करते हुए उनदोनों की निशानदेही पर सिर को बरामद किया। घटनास्थल से एक जिंदा कारतूस भी मिला है।

Find Us on Facebook

Trending News