नवादा : मृतक महिला के परिजनों से मिले पूर्व मंत्री श्याम रजक, परिजनों ने मांगा 20 लाख मुआवजा और नौकरी

नवादा : मृतक महिला के परिजनों से मिले पूर्व मंत्री श्याम रजक, परिजनों ने मांगा 20 लाख मुआवजा और नौकरी

NAWADA : जिले में पानी को लेकर दबंगो द्वारा की गई गोलीबारी में बुधवार को जहां एक महिला की मौत हो गई थी, वहीं दो लोग गंभीर रुप से घायल हो गए थे। आज गुरुवार को नवादा में आयोजित महादलित सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे पूर्व मंत्री श्याम रजक घायलों से मिलने अस्पताल पहुंचे। जहां उन्हें मृत महिला के परिजनों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। मृतिका के परिजनों ने श्याम रजक को घेर उनसे सरकार द्वारा 20 लाख मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाए जाने की मांग की। 

श्याम रजक की बात पर भड़के परिजन

वहीं परिजनों ने उन्हें बताया कि जिन लोगों द्वारा घटना को अंजाम दिया गया है वे लोग जदयू समर्थक है। जिसपर श्याम रजक द्वारा सिर्फ शक के आधार पर ऐसी बात नहीं कहने पर परिजन आक्रोशित हो उठे और उन्हें घंटो घेरे रखा। आक्रोशित परिजन अस्पातल के मेन गेट को जाम कर दिया, जिससे पूर्व मंत्री घंटो अस्पताल के अंदर फंसे रहे। 

बताते चलें कि जिले के अकबरपुर थाना क्षेत्र खैरा गांव में बुधवार को आहर से पानी लाने के विवाद को लेकर गोलीबारी हुई थी। घटना मे महिला की मौत हो गई थी, जबकि दो लोग गंभीर रुप से घायल हो गए थे जिन्हें बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया था।


आहर से पानी लाने को लेकर हुए विवाद में हुई थी गोलीबारी

गोलीबारी की घटना को अंजाम दिए जाने का आरोप गांव के दबंग लालू यादव राहुल यादव, श्री यादव उमेश यादव पप्पू यादव सिंटू यादव सहित 20 लोगों पर मृतिका के परिजनों द्वारा लगाया गया है। मृतिका के परिजन नीतीश कुमार ने बताया कि गांव में दबंग लोगों का कहना था कि खेत में पानी नहीं जाने देंगे उसी के दौरान मारपीट शुरू हुई और उन लोगों के द्वारा गोलीबारी किया गया जिसमें एक इंदु देवी नामक महिला की मौत हो गई, जबकि लीला देवी प्रभु राजवंशी गंभीर रुप से घायल हो गए। जिनका इलाज पटना में चल रहा है।  

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News