दुकान पर पेड़ गिरने से बुरी तरह फंस गया शख्स, एनडीआरएफ की टीम ने बचाया

दुकान पर पेड़ गिरने से बुरी तरह फंस गया शख्स, एनडीआरएफ की टीम ने बचाया

PATNA : शुक्रवार की सुबह बिहार राज्य के सिवान जिलान्तर्गत बसन्तपुर प्रखण्ड स्थित आदर्श राजकीय मध्य विद्यालय के समीप सड़क के किनारे मौजूद एक सेमल का पेड़ अचानक गिर पड़ा. पेड़ गिरने से नजदीक के एक दुकान में सो रहे दुकानदार पेड़ के भारी टहनियों और ध्वस्त दुकान में दब गया. पीड़ित व्यक्ति अचानक ही एक भयंकर विपदा में फँस गया. घटना ऐसे वक़्त पर हुआ जब बहुत लोग गहरी नींद में सो रहे थे. फिर भी आसपास के कुछ लोग पेड़ गिरने के तेज आवाज से भागते हुए घटनास्थल की ओर आये और शोरगुल करने लगे. घटनास्थल के नजदीक आदर्श मध्य विद्यालय बसन्तपुर में तैनात 9वीं बटालियन एनडीआरएफ की एक टीम को इसकी सूचना मिली. एनडीआरएफ के सजग बचावकर्मी टीम कमान्डर संजय कुमार के नेतृत्व में बिना समय गँवाये कटिंग टूल्स व उपकरणों के साथ घटनास्थल पर पहुँचे. 

कमान्डेंट विजय सिन्हा ने जानकारी दिया कि एनडीआरएफ के कार्मिकों ने अपनी व्यावसायिक निपुणता के साथ स्थिति को संभाला. अत्याधुनिक कटिंग टूल्स व उपकरणों की मदद से गिरे हुए पेड़ों की टहनियों तथा ध्वस्त दुकान के लकड़ी के तख्तियों व सी०जी०आई० शीट को काटकर एनडीआरएफ के कार्मिकों ने पीड़ित व्यक्ति को सुरक्षित निकालने के लिए रास्ता बनाया. कटिंग के समय काफी सावधानी की जरूरत थी. क्योंकि थोड़ी सी गलती पीड़ित व्यक्ति के लिए भारी पड़ सकती थी. फिर सुरक्षित तरीके से बुरी तरह फँसे पीड़ित व्यक्ति को घटनास्थल से जीवित निकाला. एनडीआरएफ कार्मिकों द्वारा पीड़ित व्यक्ति को घटनास्थल पर अस्पताल पूर्व चिकित्सा मुहैया करने के बाद उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बसन्तपुर (सिवान) भेज दिया गया. पीड़ित व्यक्ति की पहचान- ब्रह्मा कुमार गुप्ता (22 वर्ष), पिता- बिरेन्द्र कुमार गुप्ता, निवासी- बसन्तपुर के रूप में की गई. 

कमान्डेंट विजय सिन्हा ने आगे बताया कि वर्तमान में बाढ़ आपदा के मद्देनजर एनडीआरएफ की 23 टीमें राज्य के 14 जिलों में तैनात है. सभी टीमें बाढ़ आपदा से बचाव उपकरणों के साथ-साथ अन्य आपदा प्रबंधन अत्याधुनिक उपकरणों से भी लैस है जिसमें अत्याधुनिक कटिंग टूल्स व उपकरण तथा संचार उपकरण शामिल है. 

उन्होंने कहा कि एनडीआरएफ बचावकर्मियों के व्यावसायिक निपुणता, तत्परता और उनके पास अत्याधुनिक कटिंग टूल्स मौजूद होने की वजह इस घटना में पीड़ित व्यक्ति को तुरन्त निकालकर बचाया जा सका. उन्होंने आगे बताया कि हमारे एनडीआरएफ के कार्मिक मुसीबत में फँसे लोगों की सहायता के लिए हमेशा तत्पर व तैयार रहते है. आपदा में फँसे लोगों को सुरक्षित बचाना या उनकी मदद करना हमारे लिए बहुत ही शकुन और गर्व का क्षण होता है.



Find Us on Facebook

Trending News