नीरज हत्याकांड मामला : बीजेपी विधायक की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट में गवाह ने कहा-संजीव सिंह को देखा था गोली चलाते

नीरज हत्याकांड मामला : बीजेपी विधायक की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट में गवाह ने कहा-संजीव सिंह को देखा था गोली चलाते

NEWS4NATION DESK : झरिया के बीजेपी विधायक संजीव सिंह की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह समेत चार लोगों की हत्या मामले में गवाह ने संजीव सिंह पर गोली चलाते देखने का बयान दिया है। 

नीरज सिंह हत्याकांड मामले में शनिवार को कोर्ट में पांचवें गवाह तेतुलमारी निवासी अनिल सिंह की गवाही हुई। जिला एवं सत्र न्यायाधीश आलोक कुमार दुबे के न्यायालय में गवाही देने पहुंचे अनिल सिंह ने पुलिस को दिए अपने बयान का समर्थन करते हुए कोर्ट में भी वही बातें दोहराईं।

घटना का प्रत्यक्षदर्शी गवाह होने का दावा करने वाले अनिल सिंह ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा था कि 21 मार्च 2017 की शाम सात बजे वह स्टील गेट के पास रुई की दुकान पर था तभी उसने गोली चलने की आवाज सुनी। उसने देखा कि काले रंग के फॉच्र्यूनर पर अंधाधुध गोली चल रही थी। सात-आठ आदमी गोली चला रहे थे, जिसमें झरिया विधायक संजीव सिंह भी शामिल थे। वे बाईं ओर से गोली चला रहे थे और वह भी बाईं ओर ही था। 

गवान ने पुलिस को बताया था कि गोली चलने के डर से वह छिपकर सारी घटनाओं को देख रहा था। उसने देखा कि गोली चलाने के कुछ देर संजीव सिंह समेत सभी लोग बिग बाजार की ओर चले गए। उसने देखा कि नीरज सिंह की छाती और पूरे शरीर में गोली लगी हुई थी। गाड़ी में मौजूद ड्राइवर घलटू, मुन्ना तिवारी, अशोक यादव, आदित्य राज को गोली लगी थी। कुछ देर बाद नीरज सिंह के छोटे भाई एकलव्य सिंह गाड़ी से आए और नीरज सिंह को गाड़ी की डिक्की में रख कर सेंट्रल अस्पताल ले गए। कुछ देर के बाद वह भी सेंट्रल अस्पताल गया, जहां पता चला कि नीरज सिंह की मृत्यु हो गई है। यह भी पता चला कि घायल अन्य लोगों की भी मृत्यु हो गई।

गवाही के दौरान मृतक नीरज सिंह की ओर से कोर्ट रुम के अंदर उनके छोटे भाई व धनबाद के डिप्टी मेयर एकलव्य और बाहर अभिषेक सिंह मौजूद थे। वहीं संजीव सिंह की ओर से उनके छोटे भाई सिद्धार्थ मौजूद थे। 

Find Us on Facebook

Trending News