चाची को नौकरी दिलाने की भतीजे की चाल हो गई नाकाम, जाली टीईटी प्रमाण पत्र के साथ पकड़ी गई महिला अभ्यर्थी

चाची को नौकरी दिलाने की भतीजे की चाल हो गई नाकाम, जाली टीईटी प्रमाण पत्र के साथ पकड़ी गई महिला अभ्यर्थी

CHHAPRA : बिहार में चल रहे शिक्षक नियोजन में बडे़ पैमाने पर फर्जीवाड़े की शिकायते भी सामने आ रही हैं। ऐसा ही एक मामला सारण के जिला मुख्यालय से सामने आया है। जहां एक फर्जी महिला अभ्यर्थी को पकड़ा गया है। महिला के दस्तावेज जांच के दौरान उसे जाली पाया गया, जिसके बाद उसे भगवान बाजार पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

मामले में बताया गया कि हिरासत में ली गई महिला अभ्यर्थी संस्कृत विषय में फर्जी टीईटी अंक पत्र और प्रमाण पत्र के आधार पर बहाली कराने पहुंची थी। जब  डीपीओ स्थापना निशांत गुंजन ने विभागीय सीडी से प्रमाण पत्र की मिलन की दोनों फॉर्म्ड में अंतर पाया, जिससे यह साबित हो गया कि प्रमाण पत्र फर्जी है। पूछताछ के दौरान महिला ने भी इस बात को कबूल कर लिया है।

भतीजे ने बनाया था प्रमाण पत्र

पूछताछ के दौरान महिला ने पुलिस को बताया कि उसके भतीजे ने पटना के साइबर कैफे से फर्जी टीईटी प्रमाण पत्र तैयार करवाया था। जिसके बाद अब इस बात की जांच की जा रही है कि उक्त कैफे में और कितने लोगों के फर्जी प्रमाण पत्र तैयार कराए गए हैं। 


Find Us on Facebook

Trending News