बच्चों में शिक्षा संवर्धन, संस्कार सृजन और सामाजिक उत्तरदायित्व के लिए डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल की नई शाखा शुरू

बच्चों में शिक्षा संवर्धन, संस्कार सृजन और सामाजिक उत्तरदायित्व के लिए डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल की नई शाखा शुरू

पटना. डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल ने शिक्षा संवर्धन, संस्कार सृजन और सामाजिक उत्तरदायित्व की दिशा में एक ओर कदम बढ़ाया है. विद्यालय की नई शाखा का संचालन आगामी सत्र से पटना के अनीसाबाद के कुरकुरी में शुरू हो रहा है. विद्यालय के अध्यक्ष प्रेम रंजन कुमार ने स्कूल के जगनपुरा शाखा में आयोजित प्रेस कांफ्रेस में बताया कि हमारा विद्यालय कोई व्यवसाय नही अपितु सामाजिक दायित्वों की आधार शिला है. इसके हर सोपान पर हम शिक्षार्थियों को सन्मार्ग की ओर अग्रसर करते हैं. उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य छात्रों को प्रकृति के बीच रहकर शिक्षा प्राप्त करने में सहायता करना है. 

प्रेम रंजन कुमार ने कहा कि शिक्षा, सामाजिक गतिशीलता से प्रत्यक्ष रूप से सम्बन्धि है. चूकी जिन समाजों में शिक्षा की सुविधाएं जितनी अधिक मात्रा में सुलभ होती हैं उन समाजों में साभाजिक गतिशीलता उतनी ही अधिक होती है. इसी ध्येय को ध्यान में रखकर डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल की नई शाखा की शुरुआत की जा रही है. इसके तहत आधुनिक शिक्षा सुविधा, उन्नत तकनीकी व्यवस्था, उत्कृष्ट शैक्षणिक परिसर जैसी सारी सेवाएं बच्चों को विद्यालय की नई शाखा में मिलेगी. 


उन्होंने कहा कि शिक्षा के नए पाठ्यक्रम के विविध रूप, वैज्ञानिक एवं तकनीकी शिक्षा की व्यवस्था बच्चों के लिए उपलब्ध कराई जाएगी. बच्चों के सार्वभौमिक के लिए अत्याधुनिक लैब, लाइब्रेरी सहित शारीरिक विकास हेतु स्पोर्ट्स स्पिरिट का लाभ मिलेगा. शिक्षा में ही संस्कार का समावेश हो. ज्ञान, कर्म और श्रध्दा का संचयन बच्चों के बाल्यावस्था में ही हो उस दिशा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल में उपलब्ध कराई जाएगी. बच्चों में अनुशासन, आत्मसंयम, उत्तरदायित्व, आज्ञाकारिता विनयशीलता, सहानुभूति, सहयोग, प्रतिस्पर्धा आदि गुणों का विकास हो सके उसके लिए स्कूल प्रतिबद्ध है. 

नई शाखा में आधुनिक एवं सर्वसुविधा युक्त शैक्षणिक परिसर का निर्माण कराया गया है. यहां बच्चों की सुरक्षा और उनके मनोकूल व्यवस्थाएं उन्नत की गई है. नैतिक ज्ञान एवं चेतना सत्र के लिए विशेष कक्षाएं उपलब्ध कराई जाएगी. प्रेम रंजन कुमार ने कहा कि बच्चों का आचरण परिवार, समाज, और देश सेवा के अनुकूल हो उस दिशा में संस्कार सृजन पर भी डॉ डी वाई पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल कार्य करेगा. उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य बच्चों के भीतर छिपी बहुविध प्रतिभा को उस दिशा में आगे बढ़ाना और उनके सपनों को साकार करना है. इसके लिए बच्चों को उनकी प्रतिभा के अनुरूप आगे बढ़ाया जाएगा. 

इस अवसर पर उपाध्यक्ष अमरेंद्र मोहन, अध्यक्ष ऋतुराज कुमार, निदेशक विभा कुमारी तथा जगनपुरा शाखा की प्रधानाचार्या अनिता सिंह उपस्थित रही। विद्यालय की निदेशिका विभा कुमारी ने कहा कि माता-पिता अपने जीवन की पूंजी अपने बच्चों को बड़े ही विश्वास के साथ हमें सौंपते हैं, हमारा अभिभावकों से वादा है कि उनकी पूंजी, उनका भविष्य डॉ० डी० वाई० पाटिल विद्यालाय के हाथों में सुरक्षित है। शाखा अध्यक्ष ऋतुराज कुमार ने कहा कि हम छात्रों के सर्वागीण विकास हेतु प्रतिबद्ध हैं। हमारे सभी प्रशिक्षित शिक्षक छात्रों को उनकी योग्यता अनुसार शिक्षित करने में सक्षम हैं।


Find Us on Facebook

Trending News