न्यूयॉर्क टाइम्स का बड़ा दावा, भारत पर हमला करने वाले आतंकियों पर पाक नहीं कर रहा कारगर कार्रवाई

न्यूयॉर्क टाइम्स का बड़ा दावा, भारत पर हमला करने वाले आतंकियों पर पाक नहीं कर रहा कारगर कार्रवाई

NEWS4NATION DESK : पाकिस्तान को लेकर न्यूयॉर्क टाइम्स ने बड़ा दावा किया है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक रिपोर्ट प्रकाशित किया है जिसमें कहा गया है कि भारतीय वायुसेना की सीमापार एयर स्ट्राइक को दूसरे देशों से मिले समर्थन के दबाव में पाकिस्तान भले ही अपने यहां आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने का दावा कर रहा है। लेकिन सही मायने में आजतक पाकिस्तान की ऐसी कार्रवाइयां महज दिखावा ही साबित हुई हैं। 

इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि परमाणु शक्ति संपन्न भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध का खतरा तब तक बरकरार रहेगा, जब तक अंतरराष्ट्रीय दबाव में इन दोनों के बीच विवाद का कोई स्थायी समाधान नहीं किया जाता है। 
 न्यूयॉर्क टाइम्स के ओप-एड पेज पर ‘जहां परमाणु युद्ध कभी भी संभव है (यह उत्तर कोरिया नहीं है)’ शीर्षक से छपी रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया का ध्यान इस समय उत्तर कोरिया के हथियारों के जखीरे पर लगा हुआ है, लेकिन इसकी वजह से यह तथ्य धुंधला हो रहा है कि परमाणु युद्ध की शुरुआत की संभावना भारत-पाकिस्तान के बीच संघर्ष में ज्यादा है।

पाकिस्तान कभी अपने वादों को नहीं निभाता है
 

 रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने भले ही अंतरराष्ट्रीय दबाव में विभिन्न आतंकी संगठनों के 121 सदस्यों पर कार्रवाई का दावा किया है, लेकिन वह अपने वादों को कभी नहीं निभाता है। पुलवामा हमले की जिम्मेदारी लेने वाला जैश-ए-मोहम्मद अमेरिका की प्रतिबंधित सूची में दर्ज आतंकी संगठन है और औपचारिक तौर पर पाकिस्तान में भी प्रतिबंधित है। लेकिन असल में इस संगठन को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से संरक्षण और हथियार मिलते हैं। 

चीन पर भी निशाना
 
 वहीं रिपोर्ट में चीन पर भी निशाना साधा गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन हमेशा पाकिस्तान की तरीफदारी करता है और कर्जदाता की भूमिका भी निभाता है। यदि हर बार की तरह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चीन ने जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने की राह रोकी तो यह पाकिस्तान के लिए संकेत होगा कि वह आतंकी संगठनों को पालना जारी रख सकता है।

अगला टकराव सोच से भी ज्यादा भयानक हो सकता है

रिपोर्ट में कश्मीर मुद्दे का भी जिक्र करते हुए कहा गया है कि जब तक भारत और पाकिस्तान अपने बीच मुख्य विवाद यानी कश्मीर के भविष्य को निपटाने से इनकार करते रहेंगे, तब तक वे अप्रत्याशित और संभवत: भयानक परिणाम का सामना करते रहेंगे। दोनों देशों के बीच पिछले सप्ताह हुए संघर्ष के बाद की शांति इसका हल नहीं है। दोनों देशों के बीच अगला टकराव शायद इतनी आसानी से शांत नहीं होगा। दोनों ही देश एक खतरनाक स्तर पार कर चुके हैं। भारत ने पाकिस्तान पर हमला किया और उधर से भारतीय हवाई सीमा का उल्लंघन किया गया। अगला टकराव सोच से भी ज्यादा भयानक हो सकता है।

 

 

Find Us on Facebook

Trending News