राहत की खबर : ट्रैफिक जुर्माना कम करने की हुई शुरुआत, इस राज्य ने 90% तक कम किया जुर्माने की राशि

राहत की खबर : ट्रैफिक जुर्माना कम करने की हुई शुरुआत, इस राज्य ने 90% तक कम किया जुर्माने की राशि

NEWS4NATION DESK : केंद्र सरकार की नई मोटर व्हैकिल एक्ट से लोग खासे परेशान है। जुर्माने की रकर ने लोगों की कमर तोड़ कर रख दी है। आलम यह है कि सड़कों पर अब गाड़ियों की आवाजाही काफी कम हो गई है। 

इधर नये मोटर व्हैकिल एक्ट में किये जुर्माने की रकम को लेकर कई राज्यों द्वारा विरोध किया जा रहा है। वहीं कई राज्य जुर्माने की रकम को कम करने कवायद में है। इसकी शुरुआत गुजरात से शुरु हो गई है। 

नये मोटर व्हीकल एक्ट  संशोधन के महज 10 दिन बाद गुजरात सरकार ने मंगलवार को कई जुर्माने घटा दिए। ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर केंद्र के बढ़ाए जुर्माने को राज्य सरकार ने 25% से 90% तक कम कर दिया है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने इसके लिए मानवीय आधार को कारण बताया है। माना जा रहा है कि इसे देखने के बाद अब दूसरे राज्य भी जुर्माना घटा सकते हैं। 

गुजरात में नए जुर्माने 16 सितंबर से लागू होंगे। हालांकि, सरकार ने शराब पीकर गाड़ी चलाने और ट्रैफिक सिग्नल तोड़ने का जुर्माना नहीं बदला है क्योंकि इनमें बदलाव का प्रावधान नहीं दिया गया है। बता दें कि अभी तक यह ऐक्ट कांग्रेस शासित राज्यों छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान और पंजाब के अलावा गुजरात में लागू नहीं हुआ था। कर्नाटक सरकार का भी कहना है कि अगर दूसरे राज्य जुर्माना कम करते हैं, तो वहां भी विचार किया जाएगा।

गौरतलब है कि तृणमूल कांग्रेस के शासन वाले पश्चिम बंगाल और कांग्रेस शासित मध्य प्रदेश एवं राजस्थान जैसे गैर-बीजेपी शासित राज्यों ने पहले ही जुर्माने की रकम में इतने बड़े इजाफे पर सवाल उठा चुके हैं। राजस्थान सरकार ने नया कानून तो लागू कर दिया, लेकिन जुर्माने की बढ़ी रकम पर विचार करने की बात कही। बता दें, एमपी और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, जबकि पश्चिम बंगाल तृणमूल कांग्रेस शासित है।

Find Us on Facebook

Trending News