पटना-गया का सड़क संपर्क कभी भी हो सकता है भंग,जहानाबाद शहर के निचले इलाकों में घुसा बाढ़ का पानी

पटना-गया का सड़क संपर्क कभी भी हो सकता है भंग,जहानाबाद शहर के निचले इलाकों में घुसा बाढ़ का पानी

News4Nation: आफत बन कर अचानक आई बारिश और उससे उत्पन्न बाढ़ से पूरे बिहार का हाल बेहाल है. प्रदेश के सारे जिले आफत बनकर आई इस बारिश से बुरी तरह प्रभावित हो चुकें है. मौसम विभाग बिहार के कई जिलों के लिए अपने पूर्वानुमान में  रेड अलर्ट जारी कर चुका है.  अभी जो बड़ी खबर आ रही है वह यह है कि जहानाबाद में कोर्ट एरिया के पास एनएच 83 पर बाढ़ का पानी चढ़ गया है. जिससे कभी भी किसी समय आवागमन NH 83 पर ठप हो सकता है. यानी एनएच 83 पर पानी चढ़ने से पटना - गया का संपर्क कभी भी टूट सकता है. हालांकि स्थिति अभीनियंत्रण में है. लेकिन जिस तरीके से लगातार बारिश हो रही है उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि पटना - गया का संपर्क कभी भी टूट सकता है. गौरतलब है कि प्रदेश की सभी नदियां अपने उफान पर हैं. अपने इर्द-गिर्द के इलाके में गांव में को बुरी तरह प्रभावित कर रही हैं। जहानाबाद के शहर के भी निचले इलाकों में बाढ़ का पानी घुस आया है. प्रशासन लोगों को निचले इलाकों से निकालने में जुट गई है. 

बारिस की वजह से जिले से होकर गुजरने वाली सभी नदियां उफान पर है  इस कारण कई इलाकों से शहर का सम्पर्क भंग हो गया है. वहीं शहर के बीचोबीच से गुजरनेवाली दरधा और जमुनइया नदी भी पूरा रौद्र रूप धारण कर चुकी है. जिस कारण शहर के जाफरगंज देवरिया सहित कई इलाकों में बाढ़ का पानी घुस गया है. जिसके कारण लोगो को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. कई घर बाढ़ के पानी मे पूरी तरह डूब गए. लोग अपने अपने घरों से जरूरी सामान के साथ अपने  घरों को खाली कर सुरक्षित स्थानों पर जाने को विवश है. लेकिन लगतार हो रही आसमानी आफत के बीच घर से निकलने मे भी काफी कठनाई हो रही है. 

बाढ़ को देखते हुए जिला प्रशासन भी पूरी मुस्तैदी से लोगो को रेस्क्यू करने में जुटी है स्थानीय गोताखोरों की मदद से लोगो को रेस्क्यू करने काम जारी है.  जिला प्रशासन निचले इलाकों में जाकर लोग को वहां से खाली कर सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है. बाढ़ को देखते हुए जिलाधिकारी सहित पूरी प्रशासन टीम बाढ़ का जायजा लेने में लगे है जिलाधिकारी ने बताया कि गंभीर स्थिति से निपटने के लिये SDRF की एक टीम जहानाबाद भेजी गई है. हालांकि  जिला प्रशासन द्वरा बाढ़ पीड़ितों के लिए विद्यालय सामुदायिक भवन में कैम्प खोलने का निर्देश दिया है. 

Find Us on Facebook

Trending News