निखिल मंडल ने तेजस्वी पर किया पलटवार, 'आपके शासन में बिहारी को गाली मिलती थी, पर आज ताली मिलती है', राजद-कांग्रेस को लेकर भी कही बड़ी बात

निखिल मंडल ने तेजस्वी पर किया पलटवार, 'आपके शासन में बिहारी को गाली मिलती थी, पर आज ताली मिलती है', राजद-कांग्रेस को लेकर भी कही बड़ी बात

पटना. बिहार में दो सीटों पर हो रहे  विधानसभा उप चुनाव को लेकर बिहार के सियासी पारा हाई है. चुनाव लड़ रहे पार्टी के बीच जुबानी हमला तेज है. इस बीच बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश पर हमला बोला. इसके जवाब में जदयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने भी तेजस्वी यदाव पर पलटवार किया. जदयू प्रवक्ता ने तेजस्वी को निशाने पर लेते हुए कहा कि बिहार में आपके शासन काल में बिहारी को गाली मिलती थी, पर आज एनडीए की सरकार में बिहारी को ताली मिलती है.

आपके शासन बिहारी को गाली मिलती थी, पर आज ताली मिलती है

जदयू नेता निखिल ने ट्विटर पर पलटवार करते हुए तेजस्वी पर हमला बोला. उन्होंने एक तेजस्वी के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा, 'मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, जी क्या है कैसे है, इस बात की सर्टिफिकेट आप जैसे घोटाला बॉय से नहीं चाहिए. सुशासन बाबू से लेकर विकास पुरुष जैसे उपनाम बिहार की प्यारी जनता ने उन्हें दिया है. आपके समय, बिहारी को गाली मिलती थी पर आज बिहारी को ताली मिलती है. चारा से लारा वाले क्या बोलेंगे.'

तेजस्वी ने नीतीश को बताया शर्मीले

बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार की शासन व्यवस्था पर निशाना साधते हुए कहा, 'नीतीश कुमार जी बहुत ही शर्मीले स्वभाव के है इसलिए वो महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अफसरशाही,शराब तस्करी,बदहाल शिक्षा, स्वास्थ्य एवं विधि व्यवस्था पर कभी भी बात नहीं करते. वो आपका वर्तमान व भविष्य बर्बाद कर कहते हैं इतिहास के बासी पन्नों को सूंघते रहो. वर्तमान में बात कीजिए, साहब!'


कांग्रेस-राजद अलग नहीं हो सकती- निखिल मंडल

वहीं जदयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने उपचुनाव को लेकर महागठबंधन पर भी अपना बयान दिया. उन्होंने कहा, उपचुनाव में कांग्रेस और राजद के बीच मैच फिक्स है. कांग्रेस-राजद अलग नहीं हो सकती. कांग्रेस का मतलव गांधी परिवार है और लालू कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को मानते हैं, लेकिन प्रदेश कांग्रेस को नहीं जानते हैं. इससे स्पष्ट हो जाता है कि उपचुनाव में काग्रस और राजद के बीच मैच फिक्स है.' वहीं उन्होंने कहा कि कांग्रेस का बिहार में कोई आधार नहीं है. वह राजद का साथ कभी नहीं छोड़ेगी.

Find Us on Facebook

Trending News