नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला, कांट्रैक्ट पर बहाल कर्मियों को मिलेगा वेटेज, 60 साल तक नौकरी सुरक्षित

नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला, कांट्रैक्ट पर बहाल कर्मियों को मिलेगा वेटेज, 60 साल तक नौकरी सुरक्षित

PATNA: बिहार में आज कैबिनेट की बैठक थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में संवाद में कैबिनेट की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण एजेंडों पर मुहर लगी है। बिहार कैबिनेट की बैठक में कुल 20 एजेंडों पर मुहर लगी है। बिहार कैबिनेट ने ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले 6 चिकित्सकों को सेवा से बर्खास्त कर दिया है। 

जानें क्या है खास...

पू्र्व मुख्य सचिव एके चौधरी की अध्यक्षता में गठित कमिटी पार्ट- 2 पर  कैबिनेट ने मुहर लगा दी है। अब  कांट्रैक्ट पर बहाल कर्मियों को वेटेज देने का निर्णय लिया गया है. अब 60 साल तक की उम्र तक इनकी नौकरी पक्की रहेगी. बेल्ट्रान के कर्मी को आउटसोर्सिंग ही माना जायेगा .शेखपुरा सदर अस्पताल के डॉक्टर मोहम्मद समीर हयात को 2012 से अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने के आरोप में सेवा से बर्खास्त किया गया है.

सुशासन के कार्यक्रम में 2020-25 के तहत मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना अंतर्गत उच्चतर शिक्षा हेतु प्रेरित करने के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से इंटर उत्तीर्ण होने पर अविवाहित कन्याओं को 25000 एवं स्नातक या समकक्ष उत्तीर्ण होने पर 50000 की आर्थिक सहायता की स्वीकृति प्रदान की गई है.

बिहार राज्य के सभी नगर निकाय क्षेत्रों के अंतर्गत निर्मित सभी पार्कों का अनुरक्षण एवं विकास पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा कराए जाने की स्वीकृति दी गई है.बिहार पुलिस में सिपाही के पद पर सीधी भर्ती हेतु आयोजित की गई लिखित परीक्षा के पाठ्यक्रम संबंधी बिहार पुलिस हस्तक 1978 के खंड 3 के परिशिष्ट 103 कंडिका 1 (छ) के पूर्व से विद्यमान प्रावधानों को युक्तियुक्त बनाने हेतु आवश्यक संशोधन किए गए हैं.



Find Us on Facebook

Trending News