गया में नीतीश- तेजस्वी के सामने शिक्षक अभ्यर्थियों ने किया प्रदर्शन, पोस्टर लेकर की नारेबाजी

गया में नीतीश- तेजस्वी के सामने शिक्षक अभ्यर्थियों ने किया प्रदर्शन, पोस्टर लेकर की नारेबाजी

GAYA : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव आज गया पहुंचे। जहाँ उन्होंने देश के सबसे बड़े रबर डैम का उद्घाटन किया। साथ ही फल्गु नदी में बनाये गए पैदल पुल का भी लोकार्पण किया। इस मौके पर आयोजित समारोह में उस वक्त अफरा तफरी मच गयी। जब शिक्षक अभ्यर्थियों ने यहाँ भी जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया। 


समारोह में सीटीइटी और बीटीईटी पास अभ्यर्थी अपने हाथों में पोस्टर लेकर जमकर नारेबाजी करने लगे। जिससे समारोह में कुछ देर के लिए हड़कंप मच गया। इस दौरान अभ्यर्थी 7 वें चरण की बहाली करने की मांग करने लगे। बता दें की कुछ दिन पहले भी शिक्षक अभ्यर्थियों ने पटना में जमकर बवाल किया था। जिसमें पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी थी। इस दौरान कई शिक्षक अभ्यर्थी गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे।

बताते चलें आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गया में गयाजी डैम का उद्घाटन किया, जो भारत का सबसे लंबा 411 मीटर लंबा रबर डैम है। पितृपक्ष मेले से पहले इस डैम के बन जाने से फल्गु नदी में सालों भर 3 फीट पानी रहेगा। जिससे पिंडदान करने वाले यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। यह गया वासियों के लिए सबसे बड़ी सौगात है। इसके बनने से शहर के लोगों में खुशी का माहौल है। 

इस डैम को हैदराबाद की कंपनी एनसीसी लिमिटेड ने बनाया है। डैम का कार्य 22 सितम्बर 2020 को शुरू हुआ था, जिसे 2023 तक पूरा करना था। लेकिन तेज गति से हुए कार्य के कारण वर्ष 2022 में ही यह बनकर तैयार हो गया और इसका आज उद्घाटन किया गया। यह डैम 334 करोड़ की लागत से बना है, जो जमीन से 3 मीटर ऊंचा है। इसकी लंबाई 411 मीटर है। अब इस डैम के बन जाने से फल्गु नदी में सालों भर 3 फीट पानी रहेगा। जिससे पिंडदान करने वाले यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। यह गया वासियों के लिए सबसे बड़ी सौगात है। इसके बनने से शहर के लोगों में खुशी का माहौल है।  

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट     

Find Us on Facebook

Trending News