बिहार में डबल जंगलराज सरकार के सरदार हैं नीतीश कुमार... पत्रकार की हत्या पर भड़के चिराग पासवान

बिहार में डबल जंगलराज सरकार के सरदार हैं नीतीश कुमार... पत्रकार की हत्या पर भड़के चिराग पासवान

जमुई. लोजपा (रामविलास) प्रमुख और जमुई सांसद चिराग पासवान ने मंगलवार को कहा कि बिहार में डबल जंगलराज की सरकार है। इस जंगलराज के सरदार नीतीश कुमार हैं. नीतीश कुमार ने खुद वर्षों तक पूरे राज्य में घूमघूमकर लोगों को बताया कि 1990 से 2005 तक लालू -राबडी राज जंगलराज था। ऐसे में अब नीतीश ने अगर महागठबंधन के साथ सरकार बनाई है और सरकार बनते ही राज्य में हत्याओं का दौर बढ़ गया तो इसे तो डबल जंगलराज कहना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि बिहार में पिछले 32 साल से लालू और नीतीश ही सत्ता में है। इसलिए राज्य की बदहाली के लिए यही दोनों जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त को नीतीश कुमार ने महागठबंधन सरकार में सीएम पद की शपथ ली और अगले दिन जमुई में पत्रकार की हत्या हो गई। यह दिखाता है कि किस कदर इस सरकार में अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। वहीं नीतीश कुमार एक पत्रकार की हत्या पर संवेदना के दो शब्द बोलना या पीड़ितों से मिलना तो दूर उनके शासन में जमुई के डीएम और एसपी भी परिजनों से मिलना उचित नहीं मानते।

मारे गए पत्रकार के पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद भावुक हुए चिराग ने नीतीश सरकार पर जमकर गुस्सा निकाला. उन्होंने कहा कि राज्य में हर दिन हत्याओं का दौर बढ़ गया है. कभी व्यापरी, कभी पत्रकार, कभी चौकीदार तो कभी आम लोगों की हत्या हो रही है. यह दिखाता है कि राज्य में कानून व्यवस्था की कैसी लचर स्थिति है. जो नीतीश कुमार लालू –राबड़ी राज को जंगलराज बताते थे उन्हीं के दौर में बिहार के लोग हत्याओं का सिलसिला देख रहे हैं. 


उन्होंने कहा कि बिहार के 15 से 20 साल के युवाओं को लालू-राबड़ी का दौर नहीं मालूम लेकिन नीतीश कुमार ही युवाओं को बताते चल रहे थे वह अवधि जंगलराज था. आज महत्वाकांक्षी नीतीश ने उन्हीं के साथ सरकार बना ली. चिराग ने दावा किया कि महागठबंधन की सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी. इस सरकार के बनने के बाद से ही कभी कानून मंत्री के खिलाफ वारंट जारी होने को लेकर सुर्खियां मिलती हैं तो कभी हत्याओं के कारण. कभी सरकारी बैठक में रिश्तेदार दिखते हैं. इसलिए स्वार्थ के कारण बनी सरकार कुछ दिनों की महेमान है. 


Find Us on Facebook

Trending News