नीतीश-तेजस्वी बीजेपी के पूर्व तीन दिग्गज मंत्रियों पर भारी मेहरबान, ये रिश्ता क्या कहलाता है

नीतीश-तेजस्वी बीजेपी के पूर्व तीन दिग्गज मंत्रियों पर भारी मेहरबान, ये रिश्ता क्या कहलाता है

पटना. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद नये मंत्रियों को बंगले आवंटित किये गये हैं। ऐसे में पूर्व मंत्री, जो बीजेपी के नेता हैं, उन्हें अपना बंगाल खाली करना होगा। लेकिन इनमें भाजपा के कुछ दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री बंगाल खाली करने से बच गये हैं। इनमें पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, पूर्व उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन और पूर्व राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय शामिल हैं। इन पूर्व मंत्रियों के बंगले किसी नये मंत्री को नहीं आवंटित हुए हैं।

मिली जानकारी के अनुसार पूर्व उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के पांच देशरत्न मार्ग वाले भव्य बंगले वर्तमान डिप्टी सीएम तेजस्वी को आवंटित किये जाने की संभावाना है। वहीं राजद और कांग्रेस कोटे के 15 मंत्रियों को उनका बंगला भी एलॉट करा दिया गया हैं। जिसकी सूची बीते शुक्रवार शाम को जारी की गई। इनमें राजद कोटे में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री तेजप्रताप यादव को 3 स्टैंड रोड, पर्यटन मंत्री कुमार सर्वजीत को 17 हार्डिंग रोड, पीएचईडी मंत्री ललित कुमार यादव को 43 हार्डिंग रोड, उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ को 3 ट्रेलर रोड, शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर को 12 बेली रोड, पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिता देवी को 41 हार्डिंग रोड, कला संस्कृति एवं युवा मंत्री जितेंद्र कुमार राय को 3 सर्कुलर रोड, कृषि मंत्री सुधाकर सिंह को 4 स्टैंड रोड, गन्ना उद्योग मंत्री शमीम अहमद को 39 हार्डिंग रोड और सूचना प्रावैधिकी मंत्री मोहम्मद इसराइल मंसूरी को 21 हार्डिंग रोड बंगला एलॉट हुआ है।

वहीं आपदा प्रबंधन मंत्री शाहनवाज को 3/20 20 सेट डुप्लेक्स बंगला गर्दनीबाग, विधि मंत्री कार्तिक कुमार को 1/20 20 सेट डुप्लेक्स बंगला गर्दनीबाग और श्रम संसाधन सुरेंद्र राम को 2/20 20 सेट डुप्लेक्स बंगला गर्दनीबाग मिला है। कांग्रेस कोटे में पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मोहम्मद आफाक आलम को 20ए हार्डिंग रोड और पंचायती राज मंत्री मुरारी प्रसाद गौतम को 2 स्टैंड रोड बंगला एलॉट हुआ है। वहीं जिन 3 अन्य मंत्रियों को अभी आवास एलॉट नहीं किया गया है उसमें राजस्व एवं भूमि सुधार आलोक कुमार मेहता, खान एवं भूतत्व डॉ. रामानंद यादव और सहकारिता मंत्री सुरेंद्र यादव है।


Find Us on Facebook

Trending News