नीतीश खत्म करेंगे शराबबंदी ! विधानसभा में सीएम ने भाजपा से पूछा – ‘अगर यही करना है तो सब मिलकर तय कर लें’

नीतीश खत्म करेंगे शराबबंदी ! विधानसभा में सीएम ने भाजपा से पूछा – ‘अगर यही करना है तो सब मिलकर तय कर लें’

पटना. बिहार के सारण में जहरीली शराब पीने से लगभग 58 लोगों की मौत हो गई है। इस मामले को लेकर भाजपा जबरदस्त तरीके से नीतीश कुमार और उनकी सरकार पर हमलावर है। आज नीतीश कुमार ने विधानसभा में भी इस मामले को लेकर बयान दिया। उन्होंने एक बार फिर से कहा है कि जो शराब पिएगा, वह मरेगा। साथ ही साथ नीतीश कुमार ने इस बात को भी दोहराया है कि शराब से मौत पर कोई मुआवजा नहीं दिया जाएगा। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि जो पिया था, वह मर गया। जो गड़बड़ करेगा, वह मरेगा। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि जहरीली शराब पर कोई संवेदना नहीं। किसी भी धर्म में शराब पीना ठीक नहीं है। 

लेकिन इसी दौरान नीतीश कुमार ने विपक्ष को निशाने पर लेते हुए यह भी कहा कि क्या विपक्ष चाहता है कि ऐसे मामलों में मुआवजा मिले. दरअसल, छपरा में शराब पीने से हुई मौतों के मामले में मृतकों को मुआवजा देने की मांग भाजपा कर रही है. इसी पर नीतीश कुमार ने कहा कि जो लोग दारू पीकर मार जाएगा उसे हम मुआवजा देंगे, सवाल ही पैदा नहीं होता है. नहीं -अगर यही करना है तो सब मिलकर तय कर लें कि खूब शराब पिएं. उन्होंने भाजपा से ही सवाल किया कि क्या शराबबंदी हटा दी जाए तो खूब कहिये कि शराब पिएं. 

बिहार के मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कहा कि हम महात्मा गांधी के दिखाए हुए रास्ते पर चल रहे हैं। दूसरे राज्यों में भी जहरीली शराब पीने से मौत हो रही है। उन्होंने मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश का उदाहरण भी दिया। उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शराबबंदी कानून की तारीफ की थी। आपको बता दें कि शराब से हुई मौतों को लेकर भाजपा नीतीश सरकार पर जबरदस्त तरीके से हमलावर है। भाजपा की ओर से आज राजभवन तक मार्च निकाला जा रहा है। दूसरी ओर गुरुवार को भाजपा में भारत में मार्च निकाला था और नीतीश कुमार पर जबरदस्त तरीके से निशाना साधा था। भाजपा का दावा है कि नीतीश कुमार का शराबबंदी कानून पूरी तरीके से विफल है। 

विधानसभा में भी भाजपा ने इस मुद्दे को लेकर खूब हंगामा किया है। इससे पहले नीतीश कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा था कि जहरीली शराब से शुरू से लोग मरते हैं, इससे अन्य राज्यों में भी लोग मरते हैं। लोगों को सचेत रहना चाहिए क्योंकि जब शराब बंदी है तो खराब शराब मिलेगी ही। जो शराब पियेगा वो मरेगा। इस पर पूरी तरह से एक्शन होगा। उन्होंने कहा था कि मैंने अधिकारियों को कहा है कि गरीबों को न पकड़ें जो लोग इसका व्यवसाय कर रहे हैं उन्हें पकड़ें। शराब बंदी कानून से कई लोगों को फायदा हुआ है कई लोगों ने शराब छोड़ दी है। 


Find Us on Facebook

Trending News