नियोजित शिक्षकों के आंदोलन की खबर से हीं खौफ में सरकार... मैट्रिक परीक्षा को लेकर अब मनरेगा कर्मी-ANM की हो रही तलाश

नियोजित शिक्षकों के आंदोलन की खबर से हीं खौफ में सरकार... मैट्रिक परीक्षा को लेकर अब मनरेगा कर्मी-ANM की हो रही तलाश

PATNA: बिहार के नियोजित शिक्षकों ने समान काम के लिए समान वेतन की मांग को लेकर एक बार फिर से हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया है. नियोजित शिक्षकों ने 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के ऐलान की खबर के बाद से हीं शिक्षा विभाग की परेशानी बढ़ गई है.

आंदोलनकारी शिक्षकों ने मैट्रिक की परीक्षा के भी बहिष्कार का ऐलान कर दिया है.शिक्षा विभाग मैट्रिक की परीक्षा बाधित ना हो इसको लेकर टेंशन में है।परीक्षा के संचालन को लेकर एहतियातन कई उपाय किए गए हैं .शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने एक तरफ जहां आंदोलनकारी शिक्षकों को चेतावनी भी दी है, तो दूसरी ओर वैकल्पिक व्यवस्था तैयार करने में भी जुटा है.

 मैट्रिक परीक्षा में शिक्षकों की कमी दूर करने को लेकर वैकल्पिक व्यवस्था पर काम शुरू है .इसी कड़ी में मैट्रिक परीक्षा के सफलतापूर्वक आयोजन को लेकर दूसरे विकल्प में पंचायत रोजगार सेवक, एएनएम, कृषि सलाहकार एवं कृषि समन्वयकों की सूची तलब की गई है.

 लखीसराय के डीएम ने जिले के उप विकास आयुक्त, सिविल सर्जन, जिला पंचायती राज पदाधिकारी और जिला कृषि पदाधिकारी को पत्र लिखा है. पत्र में कहा गया है की वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2020 में वीक्षण कार्य हेतु ,वीक्षण कार्य में सहयोग हेतु सूची उपलब्ध कराई जाए.

लेटर देखें.....


Find Us on Facebook

Trending News