नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज की निंदा, माध्यमिक शिक्षक संघ ने कहा-आवाज को दबाना चाहती है नीतीश सरकार

नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज की निंदा, माध्यमिक शिक्षक संघ ने कहा-आवाज को दबाना चाहती है नीतीश सरकार

पटनाः राजधानी पटना में नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज के विरोध में तमाम शिक्षक संगठन खड़े हो गए हैं। बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष सह विधान पार्षद केदार नाथ पांडेय, महासचिव सह पूर्व सांसद शत्रुघ्न प्रसाद सिंह और मीडिया प्रभारी सह प्रवक्ता अभिषेक कुमार ने राज्य के नियोजित शिक्षकों पर पटना में पुलिस द्वारा किये गए हमले की कड़ी निंदा की है। 

शिक्षक नेताओं ने कहा कि नियोजित शिक्षकों द्वारा अपनी जायज मांगों को लेकर लोकतांत्रिक ढ़ग से शांतिपूर्वक धरना कार्यक्रम पर पुलिसकर्मियों के माध्यम हमला करवाए गए। सरकार ने पुलिसकर्मियों से लाठी चार्ज, आंसू गैस के गोले, वाटर कैनन आदि से जानलेवा हमला करा कर उनकी आवाज को दबाना और कुचलना चाहती है।सरकार की यह कार्रवाई कहीं से भी जायज व न्योचित नहीं है। 

नेताओं ने कहा कि नीतीश सरकार अपने को सामाजिक न्याय के अगुआ कहती है।साथ हीं  न्याय के साथ विकास का नारा देने वाली बिहार की सरकार गरीब-गुरबों, शोषित, दलितों, वंचितों आदि के उत्थान की बात कहती है ।

लेकिन उन्हीं के बच्चों को पढ़ाने वाले इन शिक्षकों के जायज मांगों को अपने दमनकारी हथकंडों से वंचित करना चाहती है। इन सबों ने मांग की है कि राज्य सरकार अविलंब नियोजित शिक्षकों की मांगों को पूरा कर राज्य में बेहतर शैक्षिक माहौल कायम करे।






Find Us on Facebook

Trending News