नियोजित शिक्षकों के भय से सरकार का बड़ा फैसला, सूबे के DEO को बॉडीगार्ड देने का आदेश

नियोजित शिक्षकों के भय से सरकार का बड़ा फैसला, सूबे के DEO को बॉडीगार्ड देने का आदेश

PATNA:  बिहार में नियोजित शिक्षकों के हड़ताल का आज तीसरा दिन है. शिक्षकों की हड़ताल की वजह से मैट्रिक परीक्षा में परेशानी उत्पन्न हुई है .कई जगहों पर आंदोलनकारी शिक्षकों ने मैट्रिक परीक्षा में बाधा उत्पन्न करने की कोशिश भी की है. इसी कड़ी में पटना जिला में मैट्रिक परीक्षा में अराजकता उत्पन्न करने के आरोप में 2 शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है.

 पटना जिला शिक्षा पदाधिकारी ने 2 शिक्षकों को बर्खास्त करने की कार्रवाई की है. इसके बाद बड़ी संख्या में शिक्षक उनके कार्यालय में पहुंच गए और उनके साथ हाथापाई किया है. इस सूचना के बाद बिहार के गृह सचिव ने सभी जिलों के डीएम और एसपी को पत्र लिखा है और सुरक्षा देने को कहा है।

गृह सचिव आमिर सुबहानी ने अपने पत्र में लिखा है कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के द्वारा हड़ताल की सूचना है। मैट्रिक परीक्षा एवं मूल्यांकन कार्य सुचारू रूप से संचालन हेतु एवं बाधा पहुंचाने वालों पर आवश्यक कार्यवाही किया जाए.

 गृह सचिव ने सभी डीएम और एसपी को कहा है कि सरकार के निर्णय का अनुपालन कराने वाले  जिला शिक्षा पदाधिकारी को अगर सुरक्षा की जरूरत हो या सुरक्षा की मांग की जाती हो तो तत्काल जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में या उन्हें प्राथमिकता के आधार पर सुरक्षा मुहैया कराई जाए.

Find Us on Facebook

Trending News