NMCH विवाद : IMA की मांग को तेजस्वी ने ठुकराया, कहा - हम डॉक्टरों के नहीं, जनता के मंत्री, निलंबन नहीं होगा वापस

NMCH विवाद : IMA की मांग को तेजस्वी ने ठुकराया, कहा - हम डॉक्टरों के नहीं, जनता के मंत्री, निलंबन नहीं होगा वापस

PATNA : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री ने एनएमसीएच के अधीक्षक विनोद कुमार राय के निलंबन को वापस लेने से इनकार कर दिया है। आज राजधानी पटना में डेंगू से बचाव को लेकर शुरू किए गए विशेष अभियान के दौरान तेजस्वी यादव ने अधीक्षक के निलंबन की वापसी की आईएमए की मांग को सिरे से खारिज करते हुए साफ कर दिया इसे वापस नहीं लिया जाएगी। तेजस्वी यादव ने साफ किया कि जनता के लिए काम करते हैं। हमारी सरकार में जनता के लिए जो काम नहीं करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

जताई नाराजगी

तेजस्वी यादव ने कहा कि आईएमए डॉक्टरों का संगठन है, तो जाहिर है कि वह अपने डॉक्टर का समर्थन करेगी ही, उनके लिए आवाज उठाएगी। लेकिन मेरा सवाल है कि आईएमए तब क्यों चुप थी, जब 705 डॉक्टर बिना किसी सूचना के ड्यूटी से गायब थे। इनमें से कई तो दस साल से ड्यूटी पर नही गए। उन्होेने तब क्यों अपने डॉक्टरों पर खुद से कार्रवाई नहीं की। आईएमए को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि गलत करनेवाले डॉक्टरों का समर्थन नहीं करे।

निलंबन का बताया कारण

इस दौरान तेजस्वी यादव एनएमसीएच अधीक्षक के निलंबन के कारणों को लेकर भी बड़ी बात कहते हुए बताया कि जिस अधीक्षक को यह नहीं पता है कि उनके अस्पताल में डेंगू वार्ड कहां है, वहां वह किस प्रकार की व्यवस्था रखते होंगे, यह समझा जा सकता है। ऐसे डॉक्टर को बचाने के लिए आईएमए सवाल उठा रही है।

तेजस्वी ने कहा आईएमए को तो अब निश्चिंत होकर काम करना चाहिए कि अब ऐसी सरकार आई है, जो स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त  करने करने प्रतिबद्ध है, इस तरह के फिजुल की बातों को लेकर मुद्दा बनाने की जरुरत नहीं है।

 बता दें कि दो दिन पहले एनएमसीएच के अधीक्षक विनोद कुमार राय को कार्य में लापरवाही बरतने को लेकर स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने निलंबित कर दिया था। जिसके बाद आईएमए ने इसे गलत बताया था और अधीक्षक के निलंबन की वापसी की मांग की थी


Find Us on Facebook

Trending News