किसी नेता की वजह से नही बल्कि जहानाबाद में तेजप्रताप के उम्मीदवार को अपने प्रभाव से आया इतना वोट : शिवानंद

किसी नेता की वजह से नही बल्कि जहानाबाद में तेजप्रताप के उम्मीदवार को अपने प्रभाव से आया इतना वोट : शिवानंद

PATNA : प्रदेश में महागठबंधन को मिली करारी हार के बाद अब एक ओर जहां घटक दल राजद परिवार के अंदरुनी विवाद को पराजय की बड़ी वजह बता रहे है। वहीं अब राजद के नेता भी इसमें शामिल हो गये है। 

पार्टी के कई विधायकों द्वारा करारी हार के लिए पहले से ही नेतृत्व और लालू परिवार के अंदरुनी कलह को जिम्मेवार बताया जा रहा था। वहीं इसी कड़ी में पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी भी शामिल हो गये है। हालांकि उन्होंने सीधे तौर पर पार्टी नेतृत्व या लालू परिवार के अंदर चल रहे विवाद पर कुछ नहीं कहा है, लेकिन इशारे-इशारे में उन्होंने भी बड़ी बात कही है। 

आज न्यूज4नेशन से खास बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि पूरे देश में एनडीए और खासकर बीजेपी की ओर से जो माहौल बनाया गया उसका असर बिहार पर भी पड़ा। शिवानंद ने कहा कि बिहार में महागठबंधन और खासकर राजद का यह हाल होगा इसकी उम्मीद उन्हें भी नहीं थी। हमलोगों को कम से कम 15 सीट मिलनी चाहिए थी जिसका अनुमान हमलोगों ने लगाया था।  

शिवानंद ने तेजप्रताप के पसंदीदा प्रत्याशी को अच्छा-खासा वोट मिलने की बात पर तेजप्रताप का नाम लिए वगैर उनपर जमकर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि जहानाबाद में राजद के खिलाफ विपक्ष के अलावे जिसने चुनाव लड़ा, उन्हें जो वोट मिली वह उनके प्रभाव से मिली। 

तेजप्रताप के पसंदीदा प्रत्याशी का अपना वोट भी है, क्योंकि उनका कॉलेज है तथा उनके यहां जिला परिषद भी है। तो उससे भी वोट आया होगा। उन्होंने कहा कि उन्हें जो वोट मिला है उनकी अपनी देन है। किसी और के वजह से वोट नही आया है।  

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News