गया में कुख्यात अपराधी गजनी और थानाध्यक्ष हत्याकांड का आरोपी साने अली समेत सात गिरफ्तार, हथियार और आधा दर्जन बम बरामद

गया में कुख्यात अपराधी गजनी और थानाध्यक्ष हत्याकांड का आरोपी साने अली समेत सात गिरफ्तार, हथियार और आधा दर्जन बम बरामद

GAYA : बिहार के गया में कुख्यात अपराधी मोहम्मद शमशाद उर्फ विक्की उर्फ गजनी और कोठी के पूर्व थानाध्यक्ष क्यामुद्दीन अंसारी हत्याकांड के आरोपी सोने अली खान को गया पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. शमशाद उर्फ गजनी को गया के सिविल लाइन थाना अंतर्गत कठोकर तालाब से गिरफ्तारी की गई. इसके पास से दो पिस्तौल, आधा दर्जन देसी बम व काफी संख्या में कारतूस की बरामदगी की गई है. वहीं साने अली खान को इमामगंज थाना क्षेत्र के शेेरघाटी-इमामगंज रोड से गिरफ्तार किया गया है. शाने अली के 6 और सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया है. 

शमशाद उर्फ गजनी के खिलाफ कोतवाली थाना में 11 मामले दर्ज हैं. वहीं सिविल लाइन थाने में भी इसके खिलाफ चार कांड दर्ज है. इस संबंध में गया एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि लूट-डकैती कांडों के अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी के लिए कोतवाली थाना की पुलिस पदाधिकारी एवं बल के साथ छापेमारी की गई. छापेमारी के क्रम में कोतवाली हाल में घटित थाना कांड संख्या 781/22 के अभियुक्त मोहम्मद शमशाद उर्फ विक्की उर्फ गजनी अंदर टिकारी किला निवासी को कठोकर तालाब सिविल लाइन थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया. इसके पास से दो पिस्तौल की बरामदगी की गई है.  

एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि हाल ही में गया शहर में कई घटनाओं को अंजाम दिया था, जिसके बाद से इस अपराधी की तलाश सरगर्मी से की जा रही थी. इसी क्रम में गुप्त सूचना मिलने के बाद सिविल लाइन थाना क्षेत्र से इसकी गिरफ्तारी कर ली गई है. इसके खिलाफ कोतवाली थाना क्षेत्र में 11 और सिविल लाइन थाना क्षेत्र में 4 मामले पूर्व से दर्ज हैं. एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि इस अपराधी के पास से एक देसी पिस्तौल, एक देसी लोडेड पिस्तौल, 9 कारतूस, दो खोखा, लूट की मोबाइल की बरामदगी की गई है. इससे पुलिस की टीम पूछताछ कर रही है. आगे की कार्रवाई जारी है. 

वहीं, गया के कोठी थाना क्षेत्र के कुख्यात अपराधीकर्मी साने अली खान को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके 5 साथियों की भी गिरफ्तारी की गई है. इनके पास से दो देशी पिस्टल, 16 कारतूस, पिस्टल साफ करने का उपकरण की बरामदगी की गई है. इस संबंध में एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि सूचना मिली थी, कि साने अली खान अपने गिरोह के साथ अपराधिक घटना को अंजाम देने वाला है तथा हथियार के साथ अपने गिरोह को लेकर इमामगंज से बांके बाजार के लिए निकला है. सूचना के आधार पर इमामगंज एसडीपीओ मनोज राम, पुअनि राहुल रंजन, पुअनि पप्पू कुमार शर्मा के साथ सशस्त्र बल को मिलाकर टीम का गठन किया गया. जिनके द्वारा साने अली खान और उसके गिरोह के तीन साथियों को पकड़ा गया. दो अपराध कर्मी मौके से मोटरसाइकिल से भागने में सफल रहे, जिन्हें बाद में गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार अन्य साथियों में जिशान खान, सफीर खान, इमरान मंसूरी, अर्शी खान एवं तौसीफ खान को गिरफ्तार किया गया है. 

एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि साने अली खान कुख्यात अपराधी है, जिस पर पूर्व थानाध्यक्ष कोठी क्यामुद्दीन अंसारी की हत्या का मामला दर्ज है. इसके जेल से बाहर छूट जाने के बाद से कोठी थाना क्षेत्र में सक्रिय हुआ था. लोगों में इसे लेकर काफी भय बना हुआ था. आए दिन लेवी, रंगदारी, ठेकेदारों को धमकाने, जनता दरबार लगाकर मारपीट करने की बात सामने आ रही थी. साने अली खान के द्वारा बताया गया है कि अवैध संगठन सनलाइट सेना का संस्थापक रहा है. 

इस संबंध में एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि कुख्यात अपराधी शमशाद उर्फ गजनी और साले अली खान की गिरफ्तारी की गई है. गया के अलग-अलग क्षेत्रों से दोनों की गिरफ्तारियां की गई है. इनके पास से 4 हथियार और देसी बम बरामद किए गए हैं. शमशाद उर्फ गजनी के खिलाफ अब तक कुल 15 के करीब अपराधिक इतिहास पाए गए हैं. वही साले अली खान के खिलाफ 13 आपराधिक मामले पाए गए हैं. आगे की कार्रवाई चल रही है. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News