अब पहला ड्राइविंग लाइसेंस जब्त हो गया तो दूसरा बनवाना होगा मुश्किल, जानिए कैसे

अब पहला ड्राइविंग लाइसेंस जब्त हो गया तो दूसरा बनवाना होगा मुश्किल, जानिए कैसे

NEWS4NATION DESK : पूरे देश में नए मोटर वाहन अधिनियम के लागू होने के बाद बिना कागजातों के वाहन चलानेवालों के बीच हड़कंप मच गया है. बिना कागजातों के वाहन चलाने पर पुलिस की ओर से भारी जुर्माना वसूल किया जा रहा है. इसके लागू होने के बाद ट्रैफिक नियमों को तोड़ने जैसी घटनाओं में भी कमी आई है. इस नए अधिनियम में ड्राइविंग लाइसेंस जब्त कर लेने तक का प्रावधान भी किया गया है. इस बीच मोटर वाहन परिचालन से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है. अब ड्राइविंग लाइसेंस को आधार नंबर से जोड़ने की तैयारी की जा रही है. इससे नियम के लागू हो जाने के बाद एक बार लाइसेंस जब्त हो जाने के बाद इसे फिर से दुबारा बनवाना मुश्किल हो जायेगा. 

इसे भी देखे : अगर बार-बार ट्रैफिक नियम तोड़ा तो वृद्ध आश्रम में करनी पड़ सकती है सेवा

दरअसल केंद्रीय कानून, सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद बिहार की राजधानी पटना में 10वें आधार सेवा केंद्र का उद्घाटन कर रहे थे. इस मौके पर उन्होंने कहा कि आधार से भ्रष्टाचार में कमी आई है. अब इसे ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ा जाएगा. इससे लाइसेंस जब्त होने पर दूसरे राज्यों में इसे बनाकर वाहन चलाने की परिपाटी समाप्त हो जाएगी. 

इसे भी पढ़े : बिहार सरकार की नई पहल, अब 2 अक्टूबर से बिना जमाबंदी के जमीन की नही होगी रजिस्ट्री

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के अनुसार देश के 53 शहरों में 114 आधार सेवा केंद्रों की स्थापना की जाएगी. इसमें बिहार की राजधानी पटना में दो केन्द्रों की स्थापना की जाएगी. जहाँ एक दिन में एक हजार लोगों का आधार बन सकता है. 

Find Us on Facebook

Trending News