बिहार"शरीफ" में अब गुंडों और लुटेरों का राज, दिनदहाड़े हो रही लूट और हत्या की घटना, इस बार युवा ज्वेलरी व्यवसायी बना निशाना

बिहार"शरीफ" में अब गुंडों और लुटेरों का राज, दिनदहाड़े हो रही लूट और हत्या की घटना, इस बार युवा ज्वेलरी व्यवसायी बना निशाना

BIHAR SHARIF बिहार में ज्वेलरी कारोबारियों को निशाना बनाने का सिलसिला जारी है। इस बार लुटेरों के निशाने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के एक ज्वेलरी कारोबारी रहे। यहां ज्वेलरी दुकान में लूट के इरादे से चार बदमाशों ने न सिर्फ लूट की घटना को अंजाम दिया। बल्कि भागने के दौरान दुकान के मालिक की भी गोली मारकर हत्या कर दी। मामले के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है। वहीं घटना के बाद जिले का पुलिस महकमा जांच के लिए पहुंच गई है।

 घटना सोहसराय थाना क्षेत्र की है। जहां मगध कालोनी स्थित सुहागन ज्वेलर्स दुकान में लूट का विरोध करने पर गुरुवार को बदमाशों ने एक स्वर्ण व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी। ज्वेलरी व्यवसायी का नाम सुमन कुमार उर्फ चिंटू बताया गया है।  वारदात दोपहर बाद साढ़े तीन बजे के करीब हुई है। मौका ए वारदात से एसपी ऑफिस महज 300 मीटर की दूरी पर बताया गया है। 

30 वर्षीय स्वर्ण व्यवसायी सुमन कुमार उर्फ चिंटू की मौत के बाद व्यापारियों में रोष है। स्वर्ण व्यवसायी मामले में हंगामा शुरू हो गया है। उनके शव को सुभाष पार्क के पास सड़क पर रख दिया गया है। हत्याकांड में शामिल बदमाशों की गिरफ्तारी व मुआवजे की मांग की जा रही है। मृतक के पिता नंदलाल ने बताया कि वे भैंसासुर में ज्वेलरी दुकान चलाते हैं। उनका पुत्र चिंटू मगध कालोनी में सुहागिन ज्वेलर्स नाम से दुकान चलाता था। उन्हें सूचना मिली कि बदमाशों ने उनके पुत्र को गोली मारी गई है। जानकारी होते ही वे दुकान पर पहुंचे, तबतक स्थानीय दुकानदार उनके पुत्र को सदर अस्पताल ले जा चुके थे।  घटना की जानकारी पाकर डीएसपी के साथ सोहसराय, बिहार व लहेरी थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गयी। इधर, बाद में एसपी भी जांच के लिए पहुंचे। 


सीसीटीवी खंगाल रही पुलिस

गोली लगने के बाद सुहागन ज्वेलर्स के मालिक सुमन कुमार चिंटू को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बाद में उनकी हालत को देखते हुए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया गया था । जहां रास्ते में उसकी मौत हो गई पुलिस आसपास के इलाकों के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला रही है। लगातार गोली चलने से घटनास्थल पर अफरातफरी की स्थिति बन गई।

लोगों में दहशत

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पहले तो पांच बदमाश खरीददार बनकर दुकान के अंदर घुसे थे। कुछ देर बाद कि अंदर से चार बदमाश निकले। एक के हाथ में सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर था। पीछे से दुकानदार भी दुकान के बाहर निकले और गिर गये।  इसके बाद दुकानदार और बदमाशों में बहस और झड़प हो गई। कुछ ही देर में बदमाशों ने दुकानदार को गोली मार दी। इसके बाद गोलियां चलाने के बाद चारों बदमाश एक ही बाइक पर बैठकर फरार हो गए। 

इधर, बाद में एसपी भी जांच के लिए पहुंचे। अभी तक परिजनों ने कुछ भी आरोप नहीं लगाया है। वहीं पुलिस आस-पास के लोगों से भी पूछताछ कर रही है। दुकानदार के परिजन की ओर से अभी तक कोई बयान नहीं आया है। दिनदहाड़े हुई लूट से लोगों में भय का माहौल है

लालू काल में डॉक्टर और अब ज्वेलर्स बन रहे हैं निशाना

लालू काल में बिहार में डॉक्टरों को निशाना बनाया जाता था। सैकड़ों डॉक्टर किडनैपिंग और मारे जाने के डर से बिहार छोड़कर चले गए। अब बिहार में ज्वेलरी कारोबारियों को निशाना बनाया जा रहा है। पिछले दो साल में शायद ही कोई जिला हो,जहां ज्वेलरी दुकानों में लूट के एक दर्जन मामले सामने नहीं आया हो। दो दिन पहले ही बेगूसराय जिले के एक ज्वेलरी व्यापारी ने सोशल मीडिया पर रंगदारी मांगे जाने की जानकारी देते हुए राज्य के मुख्यमंत्री से पूछा कि उनके लिए बिहार कितना सुरक्षित है। क्या उन्हें अब बिहार को छोड़कर चले जाना चाहिए।

Find Us on Facebook

Trending News