ससुराल वालों ने दहेज के लिए बहू को जिंदा जलाया, तीज के दिन पटना की बेटी ने अस्पताल में तड़प-तड़पकर तोड़ा दम...

ससुराल वालों ने दहेज के लिए बहू को जिंदा जलाया, तीज के दिन पटना की बेटी ने अस्पताल में तड़प-तड़पकर तोड़ा दम...

PATNA : आज गुरुवार को तीज व्रत को लेकर महिलाएं निर्जला व्रत रखकर अपने सुहाग की सलामती के लिए पूजा-अर्चना कर रही है लेकिन पटना की बेटी के उसके ही ससुराल वालों ने तीज के दिन जिंदा जलाकर मार डाला। घटना जहानाबाद जिले के शेखआलम चक मोहल्ले का है। जहां ससुराल वालों ने बुधवार को अपने ही बहू को जिंदा जला दिया। जिससे वह गंभीर रूप से झुलसी हुई थी और उसका इलाज पटना के अगमकुंआ स्थित अपोलो बर्न अस्पताल में चल रहा था। जहां आज यानी तीज व्रत के दिन अस्पताल में उसने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। 

मौत के बाद मृतका के घर में चीख पुकार मची है। मृतका अनामिका रानी बताई जा रही है, जिसकी उम्र अभी महज 35 वर्ष थी। वह पटना के फतुहा के सोनारू पटेल नगर निवासी वीरेंद्र कुमार की पुत्री थी। बताया जाता है कि फतुहा के सोनारू पटेल नगर निवासी वीरेंद्र कुमार की पुत्री अनामिका रानी की शादी 6 वर्ष पूर्व जहानाबाद जिले के शेख आलम चक निवासी शिव शंकर प्रसाद के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही और दहेज की मांग को लेकर ससुराल वाले अनामिका को प्रताड़ित करते थे और अंत में आग लगाकर उसकी हत्या कर दी गयी। 

मृतका के परिजनों ने पति समेत ससुराल वालों पर दहेज को लेकर अनामिका को जिंदा जलाने का आरोप लगाते हुए थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया है। घटना के बाद से ससुराल वाले फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। परिजनों ने ससुराल वालों पर दहेज को लेकर अनामिका को जिंदा जलाए जाने की बात दोहराते हुए पटना पुलिस से ससुराल वालों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई है। अगमकुआं थाने के पुलिस अधिकारी विजय कुमार शाही ने घटना की पुष्टि करते हुए अनुसंधान की बात कही और न्याय दिलाने का भरोसा दीया है।

पटना से सुमित की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News