होली की पूर्व संध्या पर आचार्यश्री सुदर्शन पटना सेंट्रल स्कूल में हास्य कवियों का लगा जमघट, हास्य गुल्लों से गूंजा पूरा परिसर

होली की पूर्व संध्या पर आचार्यश्री सुदर्शन पटना सेंट्रल स्कूल में हास्य कवियों का लगा जमघट, हास्य गुल्लों से गूंजा पूरा परिसर

PATNA : होली की पूर्व संध्या पर आचार्यश्री सुदर्शन सेंट्रल स्कूल में नामचीन हास्य कवियों का जमघट लगा। इस दौरान कवियों ने अपने-अपने व्यंग्य और हास्य मिश्रित बातों से उपस्थित लोगों का भरपूर मनोरंजन किया। दर्शक मद्ममस्त होक घंटों तक कवियों के व्यंग्य़ और हास्य मिश्रित बातों पर ठहाके लगाते रहें। 

‘आज की शाम रंगों के नाम’  कार्यक्रम का आगाज हेमंत पांडेय की सुमधुर सरस्वती वंदना से हुआ। इसके बाद डॉ. सरिता शर्मा ने अपने मधुर गीतों से उपस्थित लोगों को भावविहोर कर दिया। जबकि कार्यक्रम में शिरकत कर रहे कवि शंभू शिखर, अरुण जेमिनी, हेमंत पांडेय और डॉ. विष्णु सक्सेना के व्यंग्य और हास्य मिश्रित बातों पर लोग घंटों ठहाके लगाते रहे। 

वहीं इस मौके पर आचार्यश्री सुदर्शनजी महाराज ने सभी कवियों को शॉल, पटना और साहित्य प्रदान कर सम्मानित किया। वहीं उन्होंने कार्यक्रम में शामिल कवियों और उपस्थित दर्शकों को संबोधित करते हुए कहा कि हास्य के बिना जीवन नीरस है। हंसने से हमारी उर्जा बढ़ती है और नया उत्साह आता है। 

उन्होंने कहा कि आज के दौर में लोगों का जीवन भाग-दौड़ और तनवा भरा है और इस तनाव को दूर करने का एक ही रास्ता है हास और परिहास। हमारे हास्य कवि अपने व्यंग्य और हास्य भरी बातों से लोगों के तनाव को कम करने में बड़ी भूमिका अदा कर रहे है।  

Find Us on Facebook

Trending News