बौद्ध और रामायण सर्किट की तर्ज पर रेलवे कराएगा दिव्य काशी का दर्शन, जानें- किराया और विशेषताएं

बौद्ध और रामायण सर्किट की तर्ज पर रेलवे कराएगा दिव्य काशी का दर्शन, जानें- किराया और विशेषताएं

पटना. धर्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रेलवे की ओर से बौद्ध और रामायण सर्किट की रूटों पर विशेष रेल सेवाएं चलाई जा रही हैं. अब उसी क्रम में आईआरसीटीसी काशी के लिए विशेष डीलक्स ट्रेन शुरू कर रही है. यह ट्रेन 22 मार्च से शुरू हो रही है और आज से इसके लिए बुकिंग शुरू हो गई है.

‘देखो अपना देश’ के तहत एक एसी पर्यटक ट्रेन दिव्य काशी यात्रा चार रात और 5 दिन में करवाएगी. ट्रेन में दो रेस्टोरेंट हैं जहां शुद्व सात्विक भोजन, नाश्ता मिलता है वहीं प्राइवेसी ऐसी की दो यात्री अपने केबिन में सुरक्षित सफर कर सकेंगे. इस विशेष ट्रेन को दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से चलाया जाएगा और अगले दिन सुबह यात्री बनारस पहुंचकर सारनाथ स्मारक, काल भैरव मंदिर, वाराणसी के घाट के साथ-साथ काशी विश्वनाथ मंदिर, मंदिर गलियारा का दर्शन कर सकेंगे.

यात्रा में गंगा आरती, संकट मोचन मंदिर, तुलसी मानस मंदिर, दुर्गा मंदिर , भारत माता मंदिर, पंचकोशी यात्रा के पांच प्रसिद्ध मंदिर, कर्दमेश्वर, भीम चंडी, रामेश्वर, शिवपुर और कपिलेश्वर के भी दर्शन कर सकेंगे . 

ट्रेन में 12 कोच हैं. फर्स्ट एसी के लिए हर व्यक्ति को 29950 व सेकेंड एसी के लिए 24500 रुपए का किराया देना होगा. हालांकि अगर 2 या 4 यात्री हैं तो यह राशि कम हो जाएगी.  आईआरसीटीसी की प्रबंध निदेशक रजनी हसीजा बताती है कि इस पूरे पैकेज में  ट्रेन यात्रा, होटल में आवास, खाना व एसी वाहनों में सभी दर्शनीय स्थलों के दर्शन, यात्रा बीमा, आईआरसीटीसी टूर मैनेजर, टूरिस्ट गाइड सहित सभी खर्च शामिल हैं.

सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रात्रि आठ बजे सफर की शुरुआत होगी और स्टेशन पर पंहुचते भव्य स्वागत, जलपान, रात्रि का भोजन, कुल्हड़ में गर्मागर्म दूध और फिर सुबह नाश्ते के बाद वाराणसी का अवलोकन किया जा सकेगा. दूसरे दिन  रात्रि वापसी के बाद ट्रेन के रेस्टोरेंट में भोजन और ऑनबोर्ड नाश्ते के साथ चौथे दिन सुबह दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन पहुंचेगे.


Find Us on Facebook

Trending News