अंनत चतुर्दशी के अवसर पर सोमेश्वरनाथ महादेव मंदिर में कावरियों की उमड़ी भीड़, बोल बम के जयकारे के साथ अर्ध रात्रि से कर रहे जलाभिषेक, सुरक्षा के कड़े प्रबंध

अंनत चतुर्दशी के अवसर पर सोमेश्वरनाथ महादेव मंदिर में कावरियों की उमड़ी भीड़, बोल बम के जयकारे के साथ अर्ध रात्रि से कर रहे जलाभिषेक, सुरक्षा के कड़े प्रबंध

MOTIHARI : बिहार का काशी कहे जाने वाले पूर्वी चंपारण के अरेराज मनोकामना पूरक बाबा सोमेश्वरनाथ महादेव मंदिर में भादो मास के पवन पर्व अंनत चतुर्दशी के अवसर पर जलाभिषेक के लिए डाक बम सहित भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। कांवरिया व डाक बम की भीड़ को देखते हुए अनुमंडल प्रशासन व मंदिर प्रबंधन ने प्रथम पूजा के बाद 2 बजे रात्रि में ही जलाभिषेक के लिए खोला गहवर में बसे महादेव का पट खोलना पड़ गया। पट खुलते ही हर हर महादेव, बोल बम, ॐ नमः शिवाय के जयकारे के साथ जलाभिषेक कर पूजा अर्चना में  श्रद्धालु जुट गए। बता दें कोरोना काल के कारण लगभग दो साल बाद मंदिर में इतनी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे हैं। जिनके लिए महंत सह महामंडलेश्वर रविशंकर गिरी द्वारा जहा डाकबम व कावरियों के लिए प्रकाश, शुद्ध पेयजल, साफ सफाई , नियंत्रणकक्ष सहित अद्भुत व्यवस्था किया गया है। वही प्रशासन द्वारा 500 से अधिक पुलिस बल ,दण्डाधिकारी की प्रतिनियुक्ति कर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किया गया है ।जिला के देवापुर घाट से जलभरी कर कावरिया, डाकबम 80 किलोमीटर चलकर अरेराज महादेव मंदिर में जलाभिषेक कर रहे है ।

हर हर महादेव के जयकारे व गेरुवा बस्त्र से पटा बेलवाघट से अरेराज शिवनगरी तक का पवित्र स्थल। लाखों की संख्या में पवित्र भादो मास के अंनत चतुर्दशी के अवसर पर जलाभिषेक के लिए कावरिया का जथा 80 किलोमीटर की पद यात्रा कर  जलाभिषेक के लिए पहुंचे है। हज़ारों की संख्या में डाक बम शुक्रवार दोपहर को बेलवाघट संगम से जलभरी कर अर्ध रात्रि से जलाभिषेक के लिए शिव मंदिर पहुचने लगे। प्रशासन व मंदिर प्रबंधन भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मंदिर परिसर से लेकर 5 किलोमीटर तक बेरिकेटिंग लगाया गया है। मंदिर परिसर से लेकर पूरे क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक नियंत्रणकक्ष, ड्राप व फिक्स गेट लगाए गए है।  वहीं इस बार महिला व पुरुष कावरियों के लिए मंदिर प्रबंधन द्वारा अलग अलग अरघा की व्यवस्था किया गया है। एएसपी अभिनव धीमान, एसडीओ संजीव कुमार,सीओ पवन कुमारझा, पुलिस इंस्पेक्टर उपेंद्र कुमार, ओपी थाना अध्यक्ष सुधीर कुमार मुस्तैद रहकर मेला की कमान संभाले हुए है।चप्पे चप्पे पर सुरक्षा की मुकमल व्यवस्था किया गया है।पड़ोसी देश नेपाल,सीतामढ़ी,शिवहर, मुजफ्फरपुर सहित जिला के लाखों से लाखों की संख्या में भक्त कावर व डाकबम में पहुंचकर मन्नत पूरी होने के कामना के साथ जलाभिषेक करने में जुटे हैं।

स्थानीय संस्थाएं भी लोगों की सेवाओं में जुटी

दर्जनों सेवा शिविर द्वारा किया जा रहा डाक बम की सेवा- शुक्रवार देर शाम  से ही डाक बम पथ में,जलपा भवानी सेवा समिति, समाजसेवी ,व्यवसायिक वर्ग,मारवाड़ी सेवा समिति,एमएस मेमोरियल सेवा समिति,नवयुवक सेवा समिति,सनातन ब्राह्मण समाज सेवा समिति सहित संस्थानों  डाक बम की सेवा में जुट गए है। रातभर सभी सेवा समिति द्वारा डाकबम को गर्म जल, नींबू पानी,शर्बत ,पैर पर स्प्रे सहित सेवा किया जा रहा है। बेलवाघट से अरेराज तक 80 किलोमीटर की दूरी बोलबम के जयकारे से भक्तिमय हो गया है। वही अरेराज व्यवसायिक संघ द्वारा सेवा शिविर लगाकर भंडारा चलाया जा रहा है। भक्त बेलवाघट से जलभरी कर त्रयोदशी व चतुर्दशी को लाखों की संख्या में कांवर यात्रा व डाकबम के द्वारा जलाभीषेक कर मनोकामना पूरक बाबा सोमेश्वरनाथ महादेव को जलाभिषेक कर मंगलकामनाये करते हैं।

अवानिश मिश्रा की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News