एक बार फिर छा गए सीएम के चहेते श्याम बहादुर सिंह, कमर हिलाते हुए कहा- झुमका गिरा रे सुरवाला के बाजार में...

एक बार फिर छा गए सीएम के चहेते श्याम बहादुर सिंह, कमर हिलाते हुए कहा- झुमका गिरा रे सुरवाला के बाजार में...

SIWAN: साल 2020 के बिहार विधानसभा के चुनाव में भले ही जदयू के विधायक श्याम बहादुर सिंह हार गए हों, मगर सुर्खियों में बने रहना उन्हें बखूबी आता है। लगातार अपने ठेठ अंदाज और स्वभाव के चलते वह चर्चा में रहते हैं। इतना ही नहीं, वह सीएम नीतीश कुमार के चहेते विधायकों में से एक भी माने जाते हैं। एक बार फिर उनके ठुमके लगाने का वीडियो छा गया है। किस खुशी में पूर्व विधायक जश्न मना रहे हैं, बताते हैं आपको-

बेटे की जीत की खुशी में नाच उठे पूर्व विधायक

एक बार फिर बड़हरिया के पूर्व विधायक श्याम बहादुर सिंह चर्चा में हैं। इसबार उनके नाच, यानी कि ठुमकों ने उन्हें चर्चा में ला दिया है। श्याम बहादुर सिंह हमेशा ठुमके लगाने के वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं। मगर अबकी बार जो ठुमका लगाया है, वह अपनी जीत के लिए नहीं बल्कि अपने पुत्र संजय कुमार के लिए लगा है। दरअसल, बिहार में पंचायत चुनाव जारी हैं और उनके बेटे संजय कुमार दूसरी बार मुखिया बन गए हैं। इसके अलावा श्यामबहादुर के करीबी सुरवाला पंचायत से विनोद सिंह की पत्नी मुखिया बनने की खुशी में भी वह ठुमके लगाते नजर आ रहे हैं।

आपको बता दें, यह वही विधायक हैं जो नीतीश कुमार के खास करीबी माने जाते हैं। संजय कुमार सिंह के सर पर सहलोर पंचायत की जनता ने दूसरी बार ताज सजाया है। वहीं सुरवाला पंचायत में 65 वर्षो के बाद पंचायत में बदलाव होने के वजह से मुखिया जी के पिता खुशी को कंट्रोल नहीं कर पाए और कमर हिलाने बैठे। कमर हिलाते वक्त पूर्व विधायक अपने गाने के बोल में कहा- "झुमका गिरा रे सुरवाला के बाजार में..." 

पूर्व विधायक के और भी कई किस्से हैं मशहूर

कई बार बड़हरिया के पूर्व विधायक के डांस के वीडियो वायरल हुए हैं, जिसमें अपने ठुमकों को लेकर वे जमकर सुर्खियों में रहे हैं। वहीं बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में उन्होंने चुनाव जीतने के लिए एक नया हथकंडा अपनाया। एक तांत्रिक के कहने पर श्याम बहादुर सिंह ने जूते और चप्पलों का त्याग कर दिया। उन्होंने बताया कि तांत्रिक ने सलाह दी है, कि चुनाव होने तक वे यदि नंगे पैर रहेंगे, तो कोई उन्हें चुनाव में हरा नहीं सकता है। हालांकि तांत्रिक ने तो उन्हें बातों में फंसा लिया, मगर जनता ने उनका साथ नहीं दिया। और नतीजे आने पर आरजेडी नेता बच्चा पांडेय ने उन्हें 3 हजार 559 वोटों से हरा दिया। श्याम बहादुर सिंह को 68 हजार 6 वोट मिले, जबकि आरजेडी प्रत्याशी ने 71 हजार 226 वोट प्राप्त कर जीत हासिल की।


Find Us on Facebook

Trending News